शराब नीति पर बीजेपी के स्टिंग विडियो के बाद मनीष सिसोदिया ने कहा ‘तो अरेस्ट करो’

सिसोदिया ने कहा कि “भाजपा को यह तथाकथित स्टिंग सीबीआई को सौंपना चाहिए, जो वैसे भी पार्टी की बाहरी एजेंसी की तरह काम कर रही है। अगले चार दिनों में – सोमवार तक – अगर इस ‘स्टिंग’ में भ्रष्टाचार का कोई सबूत है तो सीबीआई मुझे गिरफ्तार कर ले।“

दिल्ली में आप सरकार के कुछ चुनिंदा लोगों की मदद के लिए अपनी शराब नीति तैयार करने के दावे को लेकर भाजपा द्वारा किए गए “स्टिंग ऑपरेशन” को जारी करने के कुछ घंटों बाद, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जवाब में भाजपा को चुनौती दी है।

सिसोदिया ने कहा कि “भाजपा को यह तथाकथित स्टिंग सीबीआई को सौंपना चाहिए, जो वैसे भी पार्टी की बाहरी एजेंसी की तरह काम कर रही है। अगले चार दिनों में – सोमवार तक – अगर इस ‘स्टिंग’ में भ्रष्टाचार का कोई सबूत है तो सीबीआई मुझे गिरफ्तार कर ले।“ उन्होंने आगे कहा कि भाजपा द्वारा हमारी सरकार को उखाड़ फेंकने का प्रयास बस हमें बदनाम करने की कोशिश है।

बता दें कि दिल्ली के उपराज्यपाल द्वारा जुलाई में नई आबकारी नीति की जांच के आदेश के बाद सीबीआई ने मनीष सिसोदिया पर छापा मारा था। जिसके बाद उसी महीने में अरविंद केजरीवाल की सरकार ने उस नीति को वापस ले लिया था, जो पिछले साल नवंबर में लागू हुई थी। आप ने कहा था कि यह नीति अधिक राजस्व प्राप्त करने के लिए थी लेकिन उपराज्यपाल के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा यह योजना विफल कर दी गई थी।

वहीं हाल ही में भाजपा ने एक गुप्त रूप से रिकॉर्ड किया गया वीडियो शेयर किया जिसमें एक व्यक्ति – जिसका नाम एफआईआर में भी है – दावा कर रहा है कि दिल्ली सरकार ने जानबूझकर छोटे खिलाड़ियों को अपनी इस नीति से बाहर रखा ताकि चुनिंदा लोगों की मदद की जा सके।