बीजेपी की बैठक में अमित शाह ने कहा “उद्धव ठाकरे को सबक सिखाने की जरूरत है”

सूत्रों के अनुसार शाह ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पर उनकी पार्टी में बंटवारे और उसके बाद की घटनाओं के लिए जिम्मेदार होने का आरोप लगाया था।

केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के मुख्य रणनीतिकार अमित शाह ने आज मुंबई में पार्टी नेताओं की एक बैठक में कहा कि शिवसेना के उद्धव ठाकरे ने भाजपा को धोखा दिया है और उन्हें “सबक सिखाया जाना चाहिए”। बैठक में शाह के हवाले से सूत्रों ने कहा कि “राजनीति में हम कुछ भी बर्दाश्त कर सकते हैं लेकिन विश्वासघात नहीं।“

सूत्रों के अनुसार शाह ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पर उनकी पार्टी में बंटवारे और उसके बाद की घटनाओं के लिए जिम्मेदार होने का आरोप लगाया था। शाह ने कहा कि उनके लालच के कारण पार्टी का एक वर्ग उनके खिलाफ हो गया था।

शाह ने कहा कि “उन्होंने न केवल भाजपा को धोखा दिया, बल्कि विचारधारा को भी धोखा दिया और महाराष्ट्र के लोगों के जनादेश का भी अपमान किया है।

वहीं शाह ने आगे कहा कि “आज मैं फिर से कहना चाहता हूं कि हमने कभी उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद का वादा नहीं किया था। हम ऐसे लोग हैं जो खुले तौर पर राजनीति करते हैं न कि बंद कमरों में।“

वहीं शाह ने गठबंधन के बारे में बोलते हुए कहा कि “ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में बीजेपी और असली शिवसेना गठबंधन का लक्ष्य बीएमसी चुनाव में 150 सीटें जीतना होना चाहिए। जनता मोदी जी के नेतृत्व वाली भाजपा के साथ है। उद्धव ठाकरे की पार्टी के साथ नहीं जो विचारधारा को धोखा देती है।“