केंद्र का लक्ष्य : दिग्गज टेक कंपनियों को समाचार प्रकाशकों के कंटेंट के उपयोग के लिए करने होंगे भुगतान

इस साल मार्च में, कम्पटीशन कमीशन ऑफ़ इंडिया (CCI) ने भारतीय ऑनलाइन समाचार मीडिया बाजार में समाचार रेफरल सेवाओं और Google Adtech सेवाओं से संबंधित अपनी प्रमुख स्थिति का दुरुपयोग करने के लिए Google के खिलाफ शिकायतों की जांच का आदेश भी दिया था।

सरकार ने संकेत दिया है कि वह गूगल, मेटा, माइक्रोसॉफ्ट, ऐप्पल, ट्विटर और अमेज़ॅन जैसी बड़ी तकनीकी फर्मों को भारतीय समाचार पत्रों के साथ-साथ डिजिटल समाचार प्रकाशकों को उनके मूल समाग्री (Original Content) का उपयोग करने के लिए उनसे इसके इसके भुगतान पर विचार कर रही है। वहीं ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और फ्रांस के बाद, अब भारत कथित तौर पर एक नए कानून की ओर गौर कर रहा है।

आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर के अनुसार, इस बदलाव को लागू करने के लिए आईटी कानूनों में संशोधन की आवश्यक्ता है और उन्होंने कहा कि “डिजिटल विज्ञापन पर बाजार की शक्ति जो वर्तमान में बिग टेक की बड़ी कंपनियों द्वारा प्रयोग की जा रही है, जो भारतीय मीडिया कंपनियों को नुकसान की स्थिति में रखती है, एक ऐसा मुद्दा है जिसकी नए वैधीकरण और नियमों के संदर्भ में गंभीरता से जांच की जा रही है।”

इस साल मार्च में, कम्पटीशन कमीशन ऑफ़ इंडिया (CCI) ने भारतीय ऑनलाइन समाचार मीडिया बाजार में समाचार रेफरल सेवाओं और Google Adtech सेवाओं से संबंधित अपनी प्रमुख स्थिति का दुरुपयोग करने के लिए Google के खिलाफ शिकायतों की जांच का आदेश भी दिया था। CCI ने पाया कि प्रमुख पद का दुरुपयोग होने के साथ यह आरोप प्रतिस्पर्धा अधिनियम, 2002 के दायरे में है और यहां अतिरिक्त महानिदेशक द्वारा विस्तृत जांच की आवश्यकता है।

Google ने पहले ही जर्मनी, फ्रांस और अन्य यूरोपीय संघ के देशों में इस मामले में अपनी सामग्री का उपयोग करने के लिए 300 से अधिक प्रकाशकों को भुगतान करने के लिए सौदों पर हस्ताक्षर किए हैं। वहीं डिजिटल समाचार प्रकाशकों और मध्यस्थ प्लेटफार्मों के बीच राजस्व बंटवारे में निष्पक्षता लाने के लिए कनाडा सरकार ने भी इस साल की शुरुआत में एक कानून भी बनाया है।

यदि भारत में भी इस तरह के कानून को लागू किया जाता है, तो यह लाज़मी है कि प्रस्तावित कानून वैश्विक तकनीकी प्रमुखों को समाचार प्रकाशकों को राजस्व का एक हिस्सा भुगतान करने के लिए मजबूर करेगा।