मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

ईडी ने फारूक अब्दुल्ला से 31 मई को श्रीनगर में तीन घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी।

जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में जम्मू-कश्मीर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई है। आरोप पत्र दाखिल करने वाले ईडी ने 84 वर्षीय अब्दुल्ला से कई बार पूछताछ की है। बता दें कि आखिरी बार 31 मई को श्रीनगर में उनसे तीन घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की गई थी।

बता दें कि तीन बार मुख्यमंत्री रह चूके अब्दुल्ला ने 2019 में भी इसी मामले में अपना बयान दर्ज कराया था और दिसंबर 2020 में, एजेंसी ने अब्दुल्ला की 11.86 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की थी।

यह चार्जशीट जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में तत्कालीन जम्मू-कश्मीर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ दायर की गई है। चार्जशीट दायर करने वाले प्रवर्तन निदेशालय ने 84 वर्षीय श्री अब्दुल्ला से कई बार पूछताछ की है। जहां, आखिरी बार 31 मई को श्रीनगर में उनसे तीन घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की गई थी।

जहां, एजेंसी ने आरोप लगाया था कि अब्दुल्ला ने एसोसिएशन के अध्यक्ष के रूप में अपने पद का “दुरुपयोग” किया है और क्रिकेट एसोसिएशन में नियुक्तियां कीं थी ताकि बीसीसीआई के फंड में फ्रॉड किया जा सके।

वहीं, सितंबर 2019 में, एजेंसी ने JKCA के कोषाध्यक्ष अहसान अहमद मिर्जा को गिरफ्तार किया था तथा उसके खिलाफ मुकदमा चल रहा है। एजेंसी ने कहा है कि मामले में आगे की जांच जारी है।

कश्मीर घाटी में राजनीतिक दलों ने कहा है कि केंद्रीय जांच एजेंसियों द्वारा समन भेजना देश में “सभी विपक्षी नेताओं के लिए सामान्य” है। वहीं, अब्दुल्ला ने कहा था कि केंद्रीय एजेंसियां विधानसभा चुनाव होने तक विपक्षी नेताओं को परेशान करती रहेंगी।