Chhatishgarh News : महात्मा गांधी पर अपमानजनक टिप्पणी करने वाले संत कालीचरण गिरपफ्तार, मध्य प्रदेश के गृहमंत्री ने जताया एतराज

महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले संत कालीचरण को रायपुर पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इस बार अब छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के बीच सियासी बयानबाजी का दौर शुरू हो चुका है। हर कोई अपने हिसाब से नया नैरेटिव सेट करने में लगा है।

नई दिल्ली। रायपुर में आयेजित धर्म संसद के दौरान महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले संत कालीचरण को आखिरकार छत्तीसगढ़ पुलिस ने मध्य प्रदेश के छत्तरपुर से हिरासत में ले लिया। उनके खिलाफ रायपुर में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। छत्तीसगढ़ पुलिस की इस कार्रवाई पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आपत्ति दर्ज कराई है और पुलिस महानिदेशक से स्पष्टीकरण मांगा है।

रायपुर पुलिस ने महात्मा गांधी को अपमानित करने वाले कथित भड़काऊ भाषण के आरोप में मध्य प्रदेश के खजुराहो से कालीचरण महाराज को गिरफ़्तार किया।

इस मामले को लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि ऐसे महापुरुष (महात्मा गांधी) के बारे में कोई अभद्र टिप्पणी करें तो उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई होगी। छत्तीसगढ़ पुलिस ने यह कार्रवाई की है। उनके(कालीचरण महाराज) परिवारजनों और वकील को सूचित कर दिया है। 24 घंटे के अंदर उन्हें कोर्ट में प्रस्तुत करेंगे।

इस मसल पर भोपाल में मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस के तरीके पर आपत्ति है। छत्तीसगढ़ सरकार चाहती तो उन्हें(कालीचरण महाराज) नोटिस देकर भी बुला सकती थी। मध्य प्रदेश DGP से कहा गया है कि मामले को लेकर छत्तीसगढ़ के DGP से बात करें। गिरफ़्तारी के इस तरीके पर आपत्ति व्यक्त कराएं।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के रावणभाठा मैदान में दो दिवसीय धर्म संसद का आयोजन हुआ था। इस दौरान हिंदू धर्म गुरु कालीचरण महाराज ने महात्मा गांधी के खिलाफ कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी की और उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रशंसा की थी।