Home पॉलिटिक्स Covid Vaccine Politics : महाराष्ट्र में वैक्सीन पर हो रही है खूब...

Covid Vaccine Politics : महाराष्ट्र में वैक्सीन पर हो रही है खूब राजनीति, शुरू हुए आरोप-प्रत्यारोप का दौर

महाराष्ट्र के बाद छत्तीसगढ़ भारत का दूसरा सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बनकर उभरा है, जहां कोरोना वायरस के लगातार केस सामने आ रहे हैं। वहीं, इन दोनों प्रदेशों में कोरोना वैक्सीन की कमी की बात की जा रही है। इस पर राजनीति भी होनी शुरू हो गई है।

नई दिल्ली। बीते कुछ दिनों से कोरोना वैक्सीन (Covid Vaccine) की कमी की बात सामने आने लगी। कई राज्यों की ओर से कहा गया कि हमारे पास पर्याप्त मात्रा मंे नहीं है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव और केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर बार-बार कहा गया कि पूरे देश में कहीं भी कोरोना वैक्सीन (Covid Vaccine) की कमी नहीं है। लेकिन, जैसे ही मुुंबई की मेयर ने पहले कहा और उसके बाद महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री ने यही बात दोहराया, उसके बाद राजनीति शुरू हो गई।

स्वयं केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डाॅ हर्षवर्धन (Dr Harshvardhan) ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार द्वारा जिम्मेदारी से कार्य न करना समझ से परे है। लोगों में दहशत फैलाना मूर्खता है। वैक्सीन आपूर्ति की निगरानी लगातार की जा रही है और राज्य सरकारों को इसके बारे में नियमित रूप से अवगत कराया जा रहा है। इसी तरह हमें छत्तीसगढ़ के नेताओं द्वारा टिप्पणियां प्राप्त हुई हैं जिनका उद्देश्य टीकाकरण पर गलत सूचना देना और भय फैलाना है। बेहतर होगा कि राज्य सरकार राजनीति पर ध्यान देने की बजाय अपनी आधारभूत स्वास्थ्य संरचना पर जोर दें।

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर (Prakash Javedkar) ने भी कहा कि महाराष्ट्र सरकार को टीकाकरण पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। अब तक महाराष्ट्र को उपलब्ध कराई गई #COVID19 वैक्सीन डोज़ की कुल संख्या 1,06,19,190 है; जिसमें से 90,53,523 डोज़ इस्तेमाल की गई हैं।

बता दें कि मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि कोवैक्सीन और कोविशील्ड की कमी है। 2-3 दिन में दूसरी डोज वालों को भी देना मुश्किल हो जाएगा। कल 1.76 लाख डोज थी जो अब और कम हुई होगी। केंद्र सरकार को मुंबई और महाराष्ट्र पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

वहीं, हम महाराष्ट्र में संक्रमण की बात करें, तो वहां स्थिति विकराल हो चुकी है। हर दिन किसी न किसी जिले में संक्रमण की संख्या बेतहाशा बढती जा रही है।

बता दें कि इसी मुद्दे को लेकर दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) के कार्यकर्ताओं ने भाजपा मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन भी किया। जहां तमाम कोरेाना के दिशा-निर्देशों की धज्जियां उडाई गईं। आम आदमी पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि केंद्र सरकार से हमारा कहना है कि वैक्सीन (Covid Vaccine) सभी को दी जाए। ये वैक्सीन केमिस्ट के पास उपलब्ध क्यों नहीं कराई गई है। सरकार बता नहीं पा रही है कि इस पर नियंत्रण क्यों किया गया है। लोगों का हक है कि उन्हें वैक्सीन लगे। यह कौन तय करेगा कि वैक्सीन की जरूरत किसे है।

Exit mobile version