Delhi News : ओमीक्राॅन वैरिएंट को रोकने के लिए दिल्ली सरकार ने ये कहा

राजधानी दिल्ली में ओमीक्राॅन वैरिएंट मिलने के बाद राज्य सरकार इससे बचाव के लिए काम करने में जुट गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन लगातार अस्पतालों के प्रबंधन और डाॅक्टरों से संपर्क में है। किसी भी मरीज को विषेश दिक्कत न हो, इसके लिए सरकारी स्तर पर कहा जा रहा है।

नई दिल्ली। सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ओमीक्रोन देश में दाखिल हो चुका है। दिल्ली में भी ओमीक्रोन के मरीज़ पाए गए। पैनिक करने की जरूरत नहीं है। मैं इस पर लगातार नज़र रखे हुए हूं, मैंने पिछले हफ़्ते भी समीक्षा बैठक ली थी। जिस भी चीज़ की जरूरत है हम उसे पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराएंगे।

वहीं, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को बताया दिल्ली में विदेशों से आ रही फ्लाइट में प्रभावित देशों से आ रहे सभी लोगों का टेस्ट किया जा रहा है। अब तक 27 लोगों को दिल्ली सरकार के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल लाया गया है, जिनमें से 17 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं, 10 उनके क्लोज कॉन्टैक्ट हैं। 17 में 12 की जीनोम सिक्वेंसिंग हो चुकी है और एक में ओमिक्रॉन वैरिएंट की पुष्टि हुई है।

इससे एक दिन पहले भी रविवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि ओमिक्रॉन को फैलने से रोकने का सबसे प्रभावी तरीका अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को प्रतिबंधित करना है।ऐसा बताया जा रहा है कि ओमिक्रॉन के पूरी तरह असर दिखाने में वायरस के अन्य स्वरूपों की तुलना में अधिक समय लग सकता है। केंद्र सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। जैन ने कहा कि इस बात की 99 प्रतिशत संभावना है कि मास्क कोविड-19 के सभी वैरिएंट से लोगों का बचाव कर सकता है-भले ही वह अल्फा हो, बीटा हो, डेल्टा हो या ओमिक्रॉन हो।