Home पॉलिटिक्स श्री धर्मेंद्र प्रधान ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री का कार्यभार संभाला

श्री धर्मेंद्र प्रधान ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री का कार्यभार संभाला

प्रधानमंत्री का नेतृत्व भारत को 21वीं सदी की ज्ञान अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित करेगा: श्री धर्मेंद्र प्रधान

नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने शास्त्री भवन, नई दिल्ली में अपना कार्यभार संभाल लिया। शिक्षा मंत्रालय पहुंचने पर श्री प्रधान का स्वागत उच्च शिक्षा विभाग के सचिव श्री के. संजय मूर्ति, विद्यालयी शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव श्री संजय कुमार और मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने किया।

पदभार संभालने के बाद, श्री प्रधान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया कि उन्होंने उन पर निरंतर भरोसा और विश्वास बनाए रखा। उन्होंने यह भी कहा कि वह और उनकी टीम एनईपी 2020 को लागू करने, देश के शिक्षण परिदृश्य को भविष्य के लिए तैयार करने, लोगों को सशक्त बनाने और भारत को 21वीं सदी की ज्ञान अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित करने में प्रधानमंत्री के नेतृत्व और मार्गदर्शन का इंतजार करेंगे।

 

श्री प्रधान के साथ शिक्षा राज्य मंत्री श्री जयंत चौधरी और डॉ. सुकांत मजूमदार भी थे। उन्होंने उन्हें उनकी नई जिम्मेदारी के लिए बधाई दी और कहा कि वह प्रधानमंत्री के विजन को हकीकत में बदलने और भारत को शिक्षा, कौशल, नवाचार और अनुसंधान का वैश्विक केंद्र बनाने के लिए उनके साथ काम करने के लिए इंतजार कर रहे हैं।

श्री प्रधान लोकसभा में ओडिशा के संबलपुर संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। वे 2014 में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बने। उन्होंने 2017 से कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री के रूप में कार्य किया। श्री प्रधान को 2019 में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री नियुक्त किया गया।

जुलाई 2021 में, श्री प्रधान शिक्षा मंत्री तथा कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री बने। उन्होंने देश में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लागू करने का नेतृत्व किया। उन्होंने कई प्रगतिशील पहलों की शुरुआत की, जिसका देश के शैक्षणिक इकोसिस्‍टम पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है।

 

Exit mobile version