Home दुनिया Ebrahim Raisi Live : आखिरकार हो गई पुष्टि, नहीं रहे ईरान के...

Ebrahim Raisi Live : आखिरकार हो गई पुष्टि, नहीं रहे ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी

 

तेहरान। ईरानी मीडिया की माने तो दुर्घटना ग्रस्त हेलीकॉप्टर रेस्क्यू टीम को मिल चुका है। वहीं घटना स्थल से जो तस्वीर आ रही है उसे अंदाजा लगाया जा रहा है कि हादसे में किसी का बचाना काफी मुश्किल है। अजरबैजान से लौटते समय ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया है जिसमें उनकी मौत हो गई है।

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ( Ebrahim Raisi) पूर्वी अजरबैजान जा रहे थे। इसी दौरान अजरबैजान के सीमावर्ती शहर जोल्फा के करीब दुर्घटना (Helicopter Crash) घटी, जो ईरान की राजधानी तेहरान से 600 किलोमीटर दूर है। वह रविवार तड़के अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलीयेव के साथ एक बांध का उद्घाटन करने वाले थे। यह तीसरा बांध है, जिसे दोनों देशों ने अरास नदी पर बनाया है। पूर्वी अजरबैजान प्रांत के गवर्नर भी राष्ट्रपति के काफिले में शामिल थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, काफिले के एक हेलीकॉप्टर में ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ( Ebrahim Raisi) के साथ ही ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दोल्लाहियन भी सवार हैं। ईरानी मीडिया के अनुसार, ईरानी राष्ट्रपति ( Ebrahim Raisi) के काफिले में तीन हेलीकॉप्टर थे और इनमें से दो हेलीकॉप्टर सुरक्षित अपने गंतव्य पर उतर चुके हैं।

बता दें कि ये हेलीकॉप्टर उत्तर पश्चिमी पर्वतीय क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हुआ था। बचावकर्मियों ने हेलीकॉप्टर को 2 किलोमीटर की दूरी से सोमवार की सुबह देखा है। इसके अलावा बचावकर्मियों ने अबतक किसी के जीवितहोने की कोई जानकारी नहीं दी है। बता दे कि यह दुर्घटना ऐसे समय में हुई है जब रईसी और सर्वोच्च नेता अयातुल्लाह अली खामेनेई के नेतृत्व में ईरान ने बीते महीने ही इसराइल पर ड्रोन और मिसाइल हमले किए थे।

इसके अलावा ईरान का यूरेनियम संवर्धन भी हथियार बनाने के लिए आवश्यक स्तर के करीब पहुंच गया है। ईरान को खराब अर्थव्यवस्था और महिला अधिकारियों को लेकर उसके शिया धर्मतंत्र के खिलाफ पिछले कुछ वर्षों में व्यापक पैमाने पर प्रदर्शन का सामना भी करना पड़ा है जिससे मद्देनजर इस हादसे के परिणाम तेहरान और देश के भविष्य के लिए कहीं अधिक गंभीर हो सकते हैं। रईसी ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत में यात्रा कर रहे थे।

सरकारी टीवी ने कहा कि ‘‘हार्ड लैंडिंग’’ की यह घटना ईरान की राजधानी तेहरान से लगभग 600 किलोमीटर (375 मील) दूर उत्तर-पश्चिम में अजरबैजान देश की सीमा से सटे जुल्फा शहर के निकट हुई। बाद में हालांकि टीवी ने बताया कि यह घटना उजी के निकट हुई है लेकिन इससे जुड़ी जानकारियां अभी तक विरोधाभासी हैं। सरकारी समाचार एजेंसी ‘आईआरएनए’ की खबर के अनुसार, रईसी के साथ ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीराब्दुल्लाहियन, ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत के गवर्नर और अन्य अधिकारी तथा अंगरक्षक भी यात्रा कर रहे थे। एक स्थानीय सरकारी अधिकारी ने इसे दुर्घटना कहा, लेकिन अन्य ने या तो हार्ड लैंडिंग या घटना बताया। सोमवार की सुबह तुर्किये के प्राधिकारियों ने ड्रोन से ली एक फुटेज जारी की जिसमें जंगल में आग लगी दिखायी दी।

 

Exit mobile version