दिल्ली हत्याकांड के बाद केंद्रीय मंत्री ने कहा “शिक्षित लड़कियों को लिव-इन में नहीं आना चाहिए”

केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर ने कहा कि “लड़कियों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे ऐसा क्यों कर रही हैं। पढ़ी-लिखी लड़कियों को ऐसे रिश्तों में नहीं पड़ना चाहिए।“

दिल्ली में एक महिला की उसके लिव-इन पार्टनर द्वारा हत्या पर एक केंद्रीय मंत्री ने बेहद विवादास्पद टिप्पणी की है। केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर की “शिक्षित लड़कियों” को दोष देने वाली टिप्पणी की शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी ने तीखी आलोचना की है तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्हें बर्खास्त करने की मांग की है।

लिव-इन रिलेशनशिप अपराध को जन्म देता है यह कहते हुए किशोर ने कहा कि “ये घटनाएं उन सभी लड़कियों के साथ हो रही हैं जो अच्छी तरह से शिक्षित हैं और सोचती हैं कि वे बहुत स्पष्टवादी हैं और अपने भविष्य के बारे में निर्णय लेने की क्षमता रखती हैं।“

उन्होंने कहा “लिव-इन रिलेशनशिप में क्यों रह रहे हैं? अगर उन्हें ऐसा करना ही है तो लिव-इन रिलेशनशिप के लिए उचित रजिस्ट्रेशन होना चाहिए। अगर माता-पिता इस तरह के रिश्तों के लिए सार्वजनिक रूप से तैयार नहीं हैं, तो आपको कोर्ट मैरिज करनी चाहिए और फिर साथ रहना चाहिए।”

उन्होंने आगे कहा ”लड़कियों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे ऐसा क्यों कर रही हैं। शिक्षित लड़कियां जिम्मेदार हैं क्योंकि पिता और मां दोनों ने रिश्ते से इनकार कर दिया था। पढ़ी-लिखी लड़कियों को ऐसे रिश्तों में नहीं पड़ना चाहिए।“