Home राष्ट्रीय Farmer Protest : चर्चा के केंद्र में किसान नेता राकेश टिकैत, हमला...

Farmer Protest : चर्चा के केंद्र में किसान नेता राकेश टिकैत, हमला होने की खबर ने मचाया कोहराम

किसानों को जैसे ही अपने नेता राकेश टिकैत पर हमला होने की सूचना मिली। यह खबर जंगल के आग की तरह फैली। उसके बाद जगह जगह पुलिस को किसानों को समझाना पडा। उसके बाद मामला शांत हुआ।

नई दिल्ली। दिल्ली सीमाओं पर अपनी मांगों को लेकर डटे हुए किसानों के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) पर कल हमला होने की सूचना मिली। इसके बाद जहां जहां किसान आंदोलन (Farmer Protest) कर रहे हैं, वहीं लोग तैश में आने लगे। दिल्ली की सीमाओं पर भी किसानों में गुस्सा देखा गया। हालांकि, पुलिस ने बाद में कहा कि राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) पर वैसा कोई हमला नहीं हुआ है, वो पूरी तरह से सुरिक्षता हैं। देर रात तक दिल्ली के गाजीपुर सीमा पर किसानों को पुलिस समझाती रही।

असल में, राजस्थान के अलवर में किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) के काफिले पर कुछ लोगों द्वारा कथित तौर पर हमले का मामला सामने आया है। राकेश टिकैत ने बताया, “पुलिस का पिस्टल छीनने की कोशिश की गई। पत्थर मारकर गाड़ी के शीशे तोड़ दिए गए, लाठी चलाई गई।”

अलवर एएसपी गुरूशरण ने कहा कि किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) के साथ जो घटना हुई है, इसमें 4 लोगों को हिरासत में लिया गया है। बाकी लोगों को नामजद करके टीम भेज दी गई है, उन्हें भी जल्द हिरासत में लिया जाएगा। स्याही फेंकने की, काले झंडे दिखाने की बात सामने आई है। शीशा कैसे तोड़ा है इसकी जांच की जा रही है।

ADCP नोएडा रणविजय सिंह (Ranvijay singh) ने कहा कि कुछ लोग चिल्ला बॉर्डर पर आ गए थे। उनका कहना था कि उनके नेता (राकेश टिकैत) पर हमला हुआ है, उसके बाद उन्हें सुरक्षा दी जाए और जिन्होंने हमला किया है उनपर कार्रवाई की जाए। हमने उन्हें समझाया, अब ये लोग अब हट गए हैं।

बता दें कि केंद्र सरकार के नए तीन कृषि कानूनों का कई किसान संगठन विरोध कर रहे हैं और उसी के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर बीते चार महीन से आंदोलन (Rakesh Tikait) कर रहे हैं। इसके साथ ही देश के अलग-अलग हिस्सों में किसान महापंचायत का आयोजन करके किसान नेताओं केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध कर रहे हैं।

Exit mobile version