Haj 2021 : नहीं होगी हज यात्रा, सरकार की ओर से कर दी गई घोषणा

कोरोना महामारी के कारण हज यात्रा रोक दी गई है। सउदी अरब की ओर से जारी दिशा-निर्देश के बाद भारत के हज कमेटी की ओर से यह निर्णय लिया गया है।

नई दिल्ली। जान है तो जहान है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इसी सूत्र वाक्य पर भारत सरकार काम कर रही है। कोरोना काल में कई सामाजिक और धार्मिक आयोजन पर पाबंदी लगाई गई। मंगलवार को केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय के अधीन हज कमेटी की ओर से सूचना दी गई कि कोरोना महामारी के कारण इस वर्ष हज की यात्रा नहीं आयोजित की जाएगी।

इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की गई है। इस अधिसूचना में कहा गया है कि सउदी अरब की ओर से निर्देश दिया गया है कि कोरोना महामारी के दौरान इस यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। किसी भी विदेशी हज यात्री को आने की मनाही कर दी गई है। सउदी अरब प्रशासन केवल 1422 विशेष लोगों को हज के लिए अनुमति देगी।

इस सूचना के बाद काफी लोगों को मायूसी हुई है। कई परिवार इस बार हज यात्रा पर जाने के लिए पहले से ही तय कर चुके थे। उन परिवारों का कहना है कि आखिर कोरोना और सरकार के निर्णय के बाद हम कर ही क्या सकते हैं।

बता दें कि कोरेाना महामारी के कारण यह निर्णय लिया गया है। मंगलवार को नेशनल मीडिया सेंटर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि देश में 9 लाख के करीब सक्रिय मामले बने हुए हैं। 20 राज्यों में 5,000 से कम सक्रिय मामले हैं। अन्य राज्यों में भी सक्रिय मामलों में कमी आ रही है। रिकवरी दर भी बढ़ रही है। पिछले 24 घंटे में देश में 1,17,525 रिकवरी हुई है। अब तक देश में कुल 26 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की डोज़ दी जा चुकी है।