ICSE 10th Result 2022: 4 में से 3 नेशनल टॉपर्स यूपी से, राज्य ने 99.98% सफलता की दर्ज

आईसीएसई परिणाम 2022 में यूपी ने नेशनल लेवल पर 4 में से 3 टॉपर्स दिए हैं।

इस साल आईसीएसई टॉपर्स में उत्तर प्रदेश का एक बड़ा हिस्सा है, जिसमें राज्य के चार में से तीन छात्रों ने 99.8% अंकों के साथ देश में सर्वश्रेष्ठ स्थान हासिल किया है। कानपुर के शेलिंग हाउस स्कूल की अनिका गुप्ता, बलरामपुर के जीसस एंड मैरी स्कूल एंड कॉलेज की पुष्कर त्रिपाठी और लखनऊ के सिटी मोंटेसरी स्कूल (कानपुर रोड ब्रांच) की कनिष्क मित्तल पुणे के सेंट मैरी स्कूल की हरगुन कौर मथारू के साथ देश में टॉप स्थान के लिए बराबरी पर हैं। चारों ने 500 में से 499 अंक यानि 99.8 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं।

गुप्ता ने “स्थिरता और कड़ी मेहनत” को अपनी सफलता का मंत्र बताया है। वह अपने माता-पिता के नक्शेकदम पर चल रही है और डॉक्टर बनने के लिए दो साल में राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (NEET) में शामिल होने के लिए तैयारी कर रही हैं। उनके पिता सौरभ गुप्ता एक ईएनटी सर्जन हैं और उनकी मां वंदना अग्रवाल एक पैथोलॉजिस्ट हैं। अनिका की एक छोटी बहन ऋषिका है जो 10 साल की है।

अनिका ने आगे कहा, “मेरे लिए कड़ी मेहनत और कंटीन्यूटी महत्वपूर्ण थी। मैं खुद को चार से पांच घंटे पढ़ाई का समय देती थी। वहीं पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र और मॉक टेस्ट भी बहुत मददगार होते हैं।“

वहीं लखनऊ के सिटी मोंटेसरी स्कूल (कानपुर रोड शाखा) के मित्तल ने कहा, “मैं भगवान, मेरे माता-पिता, शिक्षकों और दोस्तों को धन्यवाद देना चाहता हूं। अच्छे परिणामों के लिए व्यक्ति को योजना बनानी चाहिए और लगातार लगे रहना चाहिए। छात्रों को अपने शिक्षकों की बात सुननी चाहिए क्योंकि उनके पास बहुत अनुभव है और उनका मार्गदर्शन बहुत महत्वपूर्ण है।“

पुणे की मथारू का कहना है कि “तैयारी के मामले में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जब शिक्षक कक्षा में किसी विषय को पढ़ाते हैं, तो आप उसका अच्छी तरह से पालन करते हैं। मैंने कोई कोचिंग नहीं ली। मैं जितना चाहती थी उतना पढ़ती थी।“

बता दें कि ICSE परीक्षा 61 लिखित विषयों में आयोजित की गई थी, जिनमें से 20 भारतीय भाषाएं हैं और नौ विदेशी भाषाएं तथा एक शास्त्रीय भाषा है।