आप जाने की सोच रहे हैं गोवा, तो 21 जून तक मनाही है आपके लिए

गर्मियों की छुट्टियों में गोवा का अलग ही मजा है। इस साल सबका मजा किरकिरा हो गया, जब कोरोना के कारण गोवा के समुद्र तट वीरान पडे हैं। पाबंदियों की नई समय सीमा 21 जून तक बढाई गई है।

पणजी। बहुत दिनों से घर में हैं, कहीं जाने का मन हो रहा है। भारत में काफी लोगों का सबसे पसंदीदा जगह गोवा है। गर्मियों की छुट्टी में लोग यहां जाते हैं। इस साल कोरोना (COVID19) के कारण गोवा सुनसान पडा है। गोवा सरकार ने रविवार को निर्णय लिया है कि अभी कुछ दिन और यहां बाहरी लोगों के आने की मनाही रहेगी। इससे गोवा के बीच सुनसान है। होटलों-बाजार की कमाई ठप्प पडी हैं।

देखा जाए तो गोवा (Goa) को पर्यटन क्षेत्र से काफी आय होती रही है। यहां की अर्थव्यवस्था में इस क्षेत्र का खासा योगदान है। लेकिन, कोरोना ने इसे तबाह कर दिया है। लोग परेशान हैं। गोवा सरकार की ओर से पाबंदी की मियाद 21 जून तक बढा दी गई है। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) की ओर से कहा गया है कि कर्फ्यू (Curfew) को 21 जून सुबह सात बजे तक बढ़ाया गया है।

इस अवधि के दौरान पंचायत और नगरपालिका क्षेत्रों में स्थित दुकानों को भी सुबह सात बजे से अपराह्न तीन बजे तक खोलने की अनुमति दी गयी है। 50 लोगों के साथ शादी जैसे कार्यक्रम आयोजित किए जा सकते हैं। इसकी विस्तृत जानकारी जिलाधिकारियों की ओर से जारी की जाएगी। इसमें बाहरी लोगों के लिए सख्त पाबंदी है।

बता दें कि गोवा में शनिवार को कोविड-19 के 472 नये मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या 1,62,048 हो गयी जबकि 15 मरीजों की मौत होने से मृतकों की तादाद बढ़कर 2914 हो गयी। इसके और कम होने का इंतजार किया जा रहा है। देश के कई राज्यों में पाबंदी के बाद संक्रमण में कमी आई है, इसलिए गोवा भी उसी राह पर चल रही है।