यूपी में जेल भरो आंदोलन, बरेली में शुरू हुआ ये

इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल, बरेली शरीफ के प्रमुख मौलाना तौकीर रजा को पुलिस ने हिरासत में लिया। उन्होंने ज्ञानवापी मामले पर 'जेल भरो' का आह्वान किया था।

बरेली। शुक्रवार की नमाज के बाद बरेली, उत्तर प्रदेश के मौलवी और इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल के प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान ने ज्ञानवापी के अंदर नमाज अदा करने के विरोध में ‘जेल भरो’ आंदोलन का आह्वान किया। पुलिस ने बताया कि मौलाना के विरोध प्रदर्शन के आह्वान के बाद बरेली में स्थिति तनावपूर्ण हो गई। मौलाना तौकीर रजा खान के ऐलान के बाद पुलिस एहतियाती कदम उठा रही है और प्रस्तावित कार्यक्रम को रोकने के लिए पुख्ता इंतजाम किए हैं। गिरफ्तारी देने के लिए सड़कों पर उतरे तौकीर रजा, हजारों समर्थक भी मौजूद हैं।

तौकीर रजा ने विवादित बयान देते हुए कहा कि तुम हमारे घर पर बुलडोजर चला दोगे तो क्या चुप बैठेंगे। तौकीर रजा ने कहा कि तुम हमारे घर पर बुलडोजर चला दोगे तो क्या हम चुप रहेंगे। अब किसी का बुलडोजर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान रजा ने पीएम मोदी और उत्तराखंड के सीएम पुष्कर धामी पर आपत्तिजनक टिप्पणी भी की। साथ ही अपशब्दों का इस्तेमाल भी किया।

उत्तर प्रदेश विधानसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुस्लिम समाज से एक बार फिर अपील की है। उन्होंने कहा कि अपनी बात ऐसे वक्त में कही है जब ज्ञानवापी के मामले पर जमकर बयानबाजी हो रही है। हमने तो केवल तीन जगह मांगी… श्री अयोध्या धाम का उत्सव लोगों ने देखा… नंदी बाबा ने भी कहा कि हम काहे इंतजार करें…हमारे कृष्ण कन्हैया कहां मानने वाले हैं। सीएम योगी के बयान के बाद तौकीर रजा ने ज्ञानवापी को लेकर जेल भरो आंदोलन का आह्वान किया।