कन्हैया कुमार ने कहा भारत जोड़ो यात्रा लोगों को उम्मीद देना चाहती है

कन्हैया कुमार ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी की भागीदारी और प्रयासों ने सभी को गलत साबित कर दिया है।

कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार ने रविवार को दावा किया कि कन्याकुमारी-से-कश्मीर पैदल मार्च अब महाराष्ट्र पहुंच गया है और अपने उद्देश्यों को पूरा करने में सफल रहा है।

रविवार को यात्रा का 66 वां दिन था। कन्हैया कुमार ने कहा कि “पहले हमें संदेह था कि क्या लोग यात्रा करने में सक्षम होंगे, और उनकी प्रतिक्रिया क्या होगी। हमने खुद से भी सवाल किया.. हम हर रोज 25 किमी कैसे तय करते हैं… न किसी की मानसिकता थी और न ही हम फॉरेस्ट गंप थे! “

उन्होंने आगे कहा कि हमें याद आया कि आदमी पैरों से नहीं, बल्कि प्रेरणा से चलता है और यह यात्रा के माध्यम से सही साबित हुआ है।

वहीं यात्रा पर मीडिया के ध्यान की कमी की आलोचना करते हुए, कन्हैया ने कहा, “मुंह से निकले शब्दों के माध्यम से आंतरिक संचार ही मुख्य कारण है कि यात्रा को स्वीकृति मिली है।

वहीं कन्हैया ने दावा किया कि यात्रा ने विभिन्न वर्गों के लोगों की जमीनी समस्याओं का समाधान किया है। “महिलाओं ने मूल्य वृद्धि और मुद्रास्फीति के बारे में शिकायत की है। युवाओं ने बेरोजगारी की शिकायत की। किसानों ने कीमत को लेकर शिकायत की। इन प्रमुख मुद्दों को यात्रा के माध्यम से प्रमुखता से संबोधित किया गया है। भारत जोड़ी यात्रा असुरक्षा को दूर करना चाहती है और लोगों को उम्मीद देना चाहती है।