जानिए गुरुग्राम शो रद्द होने के बाद कुणाल कामरा ने क्या कहा वीएचपी को ?

गुरुग्राम में कुणाल कामरा का शो आयोजित होना था। जिसका विरोध करते हुए विश्व हिंदू परिषद ने प्रशासन को चिट्ठी लिखकर कहा था कि शो का आयोजन नहीं होने दिया जाए, इससे सामाजिक सौहार्द्र खराब होगा।

विश्व हिंदू परिषद ने हाल ही में गुरुग्राम में स्टैंडअप कॉमेडियन कुणाल का शो रद्द करवा दिया था। जिसके बाद कामरा ने अपनी एक चिट्ठी जारी की है। जिसमें उन्होंने पूछा कि कोई मुझे एक वीडियो दिखाए, कि कहीं मैंने हिंदू धर्म का अपमान किया हो। कामरा ने कहा कि मैं तो बस सरकार पर तंज कसता हूं। इसमें हिंदू धर्म की बात कहां से आ गई?

बता दें कि गुरुग्राम में कुणाल कामरा का शो आयोजित होना था। जिसका विरोध करते हुए विश्व हिंदू परिषद ने प्रशासन को चिट्ठी लिखकर कहा था कि शो का आयोजन नहीं होने दिया जाए, इससे सामाजिक सौहार्द्र खराब होगा।

बता दें कि विहिप ने शुक्रवार को कामरा के एक शो को रद्द करने के लिए गुरुग्राम के डिप्टी कमिश्नर को पत्र सौंपा था। बजरंग दल ने स्टैंड-अप कॉमेडियन के बारे में प्रबंधन से शिकायत भी की थी, जिसमें उन्होंने एक विशेष धर्म के बारे में मजाक करने का आरोप लगाया था।

जिसके बाद शो के आयोजक ने कहा कि प्रबंधन ने किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस न पहुंचे इसलिए शो को रद्द करने का फैसला लिया है।

वहीं अपने पत्र में, कुणाल ने विहिप को केवल “हिंदू परिषद” के रूप में संबोधित किया, क्योंकि उनके अनुसार, दुनिया भर के हिंदुओं ने इसे अपना “ठेकेदार” नहीं बनने दिया है। उन्होंने यह भी पूछा कि विहिप ने शो के आयोजक को धमकी क्यों दी क्या इसलिए क्योंकि वह उनके ‘गुंडों’ से मुकाबला नहीं करेंगे।

उन्होंने आगे लिखा “मैं गर्व से जय श्री सीता-राम और राधा-कृष्ण कह सकता हूं। अगर आप सच्चे भारतीय हैं तो गोडसे मुर्दाबाद लिखने की हिम्मत रखें। नहीं तो हम आपको हिंदू विरोधी और भारत विरोधी मानेंगे।“