Lalu Yadav : 6 साल बाद पूरी रवानगी में दिखे लालू प्रसाद यादव , बिहार की राजनीति में उफान

लालू प्रसाद यादव 6 साल बाद चुनावी मंचों से गरज रहे हैं। बिहार की सियासी जमीन में हलचल पैदा हो गई हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर बरसे। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात करके देश में विपक्ष को एकजुट करने की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है।

पटना। बिहार की राजनीति के दो पुराने महारथी अब फिर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के दौर में हैं। इसकी चर्चा पूरे देश में हो रही है। बिहार की राजनीतिक तासीर से देश के सियासी मिजाज पर भी असर होगा।

तारापुर में आयोजित रैली में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने कहा कि हमने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार का विसर्जन हो रहा है, नीतीश बोलते हैं कि हमें गोली मार दे। ह​म क्यों तुम्हें गोली मारेंगे तुम खुद मर जाओगे। मैंने सोनिया गांधी से फोन पर बात की और उनकी तबीयत के बारे में पूछा। मैंने उनसे ये भी बोला कि सभी पार्टियां, जिनकी समान विचारधारा है, उन्हें इकठ्ठा किया जाए, जिससे एक मजबूत विकल्प बनाया जा सके और उनके साथ एक बैठक बुलाई जाए।
लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार RSS की गोद में खेल रहे हैं। आज देश में कुछ नहीं मिल रहा है रेल बेच दिया है। जब हम रेल मंत्री थे तो रेलवे को फायदा में लाया लेकिन आज रेलवे का क्या हाल है। लालू ने नीतीश कुमार पर चुटकी लेते हुए कहा कि नीतीश कहते हैं लालू गोली मरवा देंगे अरे हम क्या मारेंगे, तुम खुद ही मर जाओगे। वहीं शराबबंदी को लेकर कहा कि बिहार में चूहा शराब पी लेता है। लालू प्रसाद यादव ने कहा कि नीतीश बोलते थे कि मिट्टी में मिल जाऊंगा लेकिन भाजपा के साथ नहीं जाऊंगा। ये सरकार का हाल है कि कोई इधर खींच रहा है कोई उधर। सरकार का हाल बेहाल है।


चुनावी रैली में लालू प्रसाद ने कहा कि आज 6 वर्ष बाद अपनी जनता मालिक के बीच जाकर मेरा रोम-रोम हर्षित है! आह्लादित है! इतनी बड़ी संख्या में उपस्थित होकर आपने हमें पुनः ऊर्जामयी कर दिया है। आप सभी से अपील है कि युवाओं, किसानों, व्यापारियों, कर्मचारियों और गरीबों की पीड़ा ख़त्म करने के लिए राजद की जीत सुनिश्चित करें।