Home लाइफस्टाइल एआईटीएफ का संरक्षक बने मोहन ढाकोनिया, पदाधिकारियों की नई सूची में नेपाली...

एआईटीएफ का संरक्षक बने मोहन ढाकोनिया, पदाधिकारियों की नई सूची में नेपाली समुदाय को तरजीह

नई दिल्ली। दिल्ली के छतरपुर स्थित एआईटीएफ के प्रांगण में एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें ताइक्वांडो के खिलाड़ियों ने अपने हैरतंगेज प्रदर्शन से सभी का दिल जीत लिया। इस विशेष आयोजन में मध्य प्रदेश की राजनीति में विगत 4 दशकों से अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले वरिष्ठ राजनेता व सामाजिक कार्यकर्ता मोहन ढाकोनिया को संस्था के संरक्षक के तौर पर मनोनित किया गया। उन्होंने उपस्थित खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि इस प्रकार की प्रतिस्पर्धा से न केवल भारत का नाम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर और अधिक चमकेगा, बल्कि इन खिलाड़ियों से प्रेरणा लेकर अनेक युवा ताइक्वांडो जैसे आत्मरक्षा आधारित खेल से जुड़ेंगे और इसे कैरियर के तौर पर भी अपनाएंगे। उन्होंने घोषणा की कि जल्द ही इंदौर संभाग में एआईटीएफ के बैनर तले ताइक्वांडो खेल प्रतिस्पर्धा का आयोजन किया जाएगा जिसके लिए लजीज भोजन एवं अन्य सुविधाओं की व्यवस्था करेंगे।
इस मौके पर उपस्थित एआईटीएफ के उपाध्यक्ष व राजनीति और सामाजिक क्षेत्र में जमीनी पकड़ रखने वाले रिजवान रजा ने भी खिलाड़ियों के जौहर को सराहा और उन्हें दिसंबर में होने वाले तीन दिवसीय अंतराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा के लिए बेहतर तकनीक और सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए तैयार रहने को कहा। कार्यक्रम में उपस्थित दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल में कार्यरत वरिष्ठ अधिकारी नरेंद्र सिंह ने आत्मरक्षा के महत्व को समझाते हुए युवा खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया। नरेंद्र सिंह को एआईअीएफ में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देते हुए ज्वाइंट कार्डिनेटर बनाया गया। इस आयोजन में एआईटीएफ के मीडिया एंड कम्युनिकेशन विभाग के प्रमुख व वरिष्ठ पत्रकार व राजनीतिक विश्लेषक रितेश सिन्हा ने ताइक्वांडो के खिलाड़ियों एवं प्रशिक्षकों को मानसिक और शारीरिक मजबूती बढ़ाने का सुझाव दिया और नवीनतम तकनीकी दक्षता को हासिल करने के लिए कठोर अभ्यास व सतत परिश्रम करने पर जोर देने को कहा ताकि प्रदर्शन में निखार आए।
इस अवसर पर संगठन को विस्तार देते हुए अनेक पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र सौंपे गए एवं अंग वस्त्र देकर उनका स्वागत किया गया। खास बात रही कि इनमें अधिकांश नेपाल एवं पश्चिम बंगाल से संबद्ध रखते हैं और सामाजिक क्षेत्र में बेहतर कार्य कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल की प्रिया राय, दार्जिलिंग के उपेन गजमेर, दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र के अमित धमाला, निशा गहतराज शान्ति खाती को ज्वाइंट कार्डिनेटर बनाया गया। इस अवसर पर एआईटीएफ फेडरेशन के संस्थापक अध्यक्ष एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के ताइक्वांडो प्रशिक्षक मास्टर जितेंद्र सिंह ने सभी प्रतिभागियों का परिचय कराते हुए ताइक्वांडो के नवीनतम तकनीक की भी उपस्थित मेहमानों को जानकारी दी।

Exit mobile version