Home राष्ट्रीय दिल्ली में भी मंकीपॉक्स, स्वास्थ्य विभाग आया हरकत में

दिल्ली में भी मंकीपॉक्स, स्वास्थ्य विभाग आया हरकत में

नई दिल्ली। कुछ दिन पहले तक केवल दक्षिणवर्ती राज्य केरल में मंकीपॉक्स का मामला था। अब देश की राजधानी दिल्ली में इसकी पुष्टि हो गई है। दिल्ली के लोकनायक अस्पताल में मरीज को भर्ती कराया गया है। इसके बाद दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग के साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय सहित तमाम केंद्रीय स्वास्थ्य एजेंसियों की नजर इस मरीज पर है।

दिल्ली में मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आया। इसकी पुष्टि स्वास्थ्य मंत्रालय ने की है। मरीज मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। उसको (31 वर्षीय व्यक्ति) बुखार और त्वचा पर घाव होने के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया और उसकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है।

लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल की ओर से कहा गया है कि पश्चिमी दिल्ली के रहने वाले व्यक्ति को करीब तीन दिन पहले यहां के मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने के बाद भर्ती कराया गया था। उसके नमूने शनिवार को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) पुणे भेजे गए, जांच के बाद नमूने पॉजिटिव मिले।

केरल में ही अब तक मंकीपॉक्स के तीन मामले सामने आए थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने शनिवार को मंकीपॉक्स को वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया है। डब्ल्यूएचओ ने सभी देशों से इस मुद्दे पर गंभीर होने का आह्वान किया।

दूसरी ओर, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने आज दक्षिण-पूर्वी एशिया क्षेत्र के देशों से मंकीपॉक्स के लिए निगरानी और सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को मजबूत करने का आह्वान किया है, इस बीमारी को सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है।
डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह, क्षेत्रीय निदेशक, WHO दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र ने कहा कि मंकीपॉक्स तेजी से उन देशों में फैल रहा है जिन्होंने इसे पहले नहीं देखा है। पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुषों में मामले केंद्रित हैं। हमारे उपाय संवेदनशील या भेदभाव से रहित होने चाहिए।

Exit mobile version