Home दुनिया भारत ही नहीं, कनाडा में भी सरदार पटेल की प्रतिमा का पीएम...

भारत ही नहीं, कनाडा में भी सरदार पटेल की प्रतिमा का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

स्टेचू ऑफ यूनिटी देश के लिए बड़ी प्रेरणा है। स्टेचू ऑफ यूनिटी की प्रतिकृति के रूप में कनाडा के सनातन मंदिर कल्चरल सेंटर में सरदार साहब की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।सनातन मंदिर में सरदार वल्लभभाई पटेल की ये प्रतिमा न केवल हमारे सांस्कृतिक मूल्यों को मजबूती देगी, बल्कि दोनों देशों के संबंधों की प्रतीक भी बनेगी।

नई दिल्ली। देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभाई पटेल की विश्व में सबसे बड़ी प्रतिमा गुजरात में है। उसका उद्घाटन कुछ साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। रविवार को सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा न केवल हमारे सांस्कृतिक मूल्यों को मज़बूती देगी बल्कि दोनों देशों के संबंधों की प्रतीक भी बनेगी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से PM नरेंद्र मोदी ने कनाडा के मारखान में सनातन मंदिर सांस्कृतिक केंद्र (SMCC) में सरदार पटेल की प्रतिमा का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत ‘वसुधैव कुटुंबकम’ की बात करता है। भारत दूसरे के नुकसान की कीमत पर अपने उत्थान के सपने नहीं देखता। भारत अपने साथ सम्पूर्ण मानवता के, पूरी दुनिया के कल्याण की कामना करता है। आज जब हम ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान को आगे बढ़ाते हैं, तो विश्व के लिए प्रगति की नई संभावनाएं खोलने की बात करते हैं। आज जब हम योग के प्रसार के लिए प्रयास करते हैं, तो विश्व के हर व्यक्ति के लिए ‘सर्वे संतु निराम’ की कामना करते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक भारतीय दुनिया में कहीं भी रहे, कितनी ही पीढ़ियों तक रहे, उसकी भारतीयता, उसकी भारत के प्रति निष्ठा लेश मात्र भी कम नहीं होती। वो भारतीय जिस देश में रहता है पूरी लगन और ईमानदारी से उस देश की भी सेवा करता है।आजादी के बाद नए मुकाम पर खड़े भारत को उसकी हजारों सालों की विरासत याद दिलाने के लिए सरदार साहेब ने सोमनाथ मंदिर की पुनर्स्थापना की। गुजरात उस सांस्कृतिक महायज्ञ का साक्षी बना था। आज आजादी के अमृत महोत्सव में हम वैसा ही नया भारत बनाने का संकल्प ले रहे हैं।

Exit mobile version