बिहार के नवादा मैं पंचायत ने सुनाया फैसला, 5 बार उठक बैठक कर लड़के ने पूरी की रेप की सजा

स्थानीय लोगों के अनुसार इस प्रकार के अपराध को उजागर नहीं करना सही नहीं है। वही वीडियो अकबरपुर प्रखंड क्षेत्र के कन्नौज गांव का बताया जा रहा है जहां 21 नवंबर को गांव की एक 6 साल की बच्ची को लालच देकर बहला-फुसलाकर आरोपी अपने मुर्गा फार्म ले गया और उसके साथ कुकर्म किया।

बिहार के नवादा में पंचायत के एक फैसले ने लोगों का ध्यान आकर्षित किया है। इस पंचायत के फैसले के अनुसार आरोपी को पुलिस के हवाले करने की बजाय उससे उठक बैठक करा कर छोड़ दिया गया। फैसले की वीडियो के अनुसार आरोपी पंचायत के लोगों के सामने उठक बैठक कर रहा है जिसके बाद उसे जानने के लिए कह दिया जाता है यह घटना नवादा जिले के अकबरपुर थाना क्षेत्र के कन्नौज गांव की है ऐसा कहा जा रहा है।

बता दें कि मामला गांव की 6 साल की एक बच्ची के रेप का था, जिसको युवक ने अपनी हवस का शिकार बनाया था। मामला बाहर आने पर पंचायत में आरोपी को पुलिस के हवाले करने की बजाय उठक बैठक करने की सजा का फैसला सुनाया। जिस जिसके बाद आरोपी ने 5 बार उठक बैठक की और आरोप से बरी होकर वहां से चला गया।

इस दौरान बनाया गया एक 14 सेकंड का वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब शेयर हो रहा है जिसमें आरोपी उठक बैठक करते हुए देखा जा रहा है वही वीडियो भेजने वाले शख्स का मानना है कि घटना बड़ी है लेकिन जुर्म के हिसाब से जो सजा मिली है वह बहुत छोटी है।

वहीं स्थानीय लोगों के अनुसार इस प्रकार के अपराध को उजागर नहीं करना सही नहीं है। वही वीडियो अकबरपुर प्रखंड क्षेत्र के कन्नौज गांव का बताया जा रहा है जहां 21 नवंबर को गांव की एक 6 साल की बच्ची को लालच देकर बहला-फुसलाकर आरोपी अपने मुर्गा फार्म ले गया और उसके साथ कुकर्म किया। जिसके बाद बच्ची ने घर पहुंचकर परिजनों को इसकी जानकारी दी तथा परिजनों ने पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराने का विचार किया लेकिन पंचायत के द्वारा पुलिस के हवाले करने की बजाय आरोपी को उठक बैठक की सजा सुनाई गई।