पुलवामा की बरसी पर भी हो रही है सियासी बयानबाजी, मोदी और राहुल के ये हैं बोल

14 फरवरी, 2019 को, पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद आतंकी समूह के एक आत्मघाती हमलावर ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में CRPF के काफिले पर हमला किया था। इस घटना में 40 कर्मियों की मौत हो गई थी।

नई दिल्ली। तीन साल पहले पुलवामा में हुए आतंकी हमले में मारे गए देश के वीर सपूतों को पूरा देश श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है। कई जगहों पर इसके लिए प्रार्थना सभाएं भी आयोजित की गई। सुबह प्रधानमंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल से भी इन शहीदों के बलिदान को याद किया। कुछ देर बार कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व सांसद राहुल गांधी ने पुलवामा के बहाने केंद्र सरकार पर हमला बोला है।

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा- “पुलवामा के शहीदों को हम कभी भुला नहीं सकते। उनका बलिदान बेकार नहीं जाएगा। उनके परिवारों के प्रति हमारी संवेदनाएं।- हम जवाब लेके रहेंगे…।”

बता दें कि पाकिस्तानी साजिशकर्ताओं के निर्देश पर 14 फरवरी 2019 के दिन सीआरपीएफ के काफिले की बस से अपनी कार भिड़ाकर एक आतंकी ने आत्मघाती विस्फोट किया था। जिसमें 40 से ज्यादा जवानों की जान चली गई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मैं आज के दिन 2019 में पुलवामा में शहीद हुए देश के बहादुर जवानों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं, जिन्होंने देश की सेवा में सर्वोच्च बलिदान दिया।” मोदी ने कहा, “उन जवानों की बहादुरी और सर्वोच्च बलिदान हर भारतीय को देश को मजबूत और संपन्न बनाने के लिए प्रेरित करेगा।”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने अकाउंट पर ट्वीट किया, “पुलवामा में 2019 में जान गंवाने वाले CRPF के बहादुर जवानों के बलिदान को यह देश कभी नहीं भूलेगा। मैं उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ।”