श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया पुरी का जगन्नाथ मंदिर

आपने वैक्सीनेशन करवा लिया है। मास्क पहनकर जा सकते हैं, तो आपको प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर में महाप्रभु का दर्शन अब हो सकता है। पुरी शहर के लोगों को पश्चिम द्वार से और अन्य भक्तों को सिंहद्वार देकर दर्शन करने की व्यवस्था की गई है।

पुरी। कोरोना संक्रमण के दौर में कई मंदिरों को एहतियात के तौर पर बंद कर दिया गया था। केवल पुजारी को पूजा करने की अनुमति थी। किसी भी श्रद्धालु को वहां जाने की इजाजत नहीं थी। ओडिशा में जैसे ही कोरोना संक्रमण में कमी आई, लोगों की मांग पर राज्य सरकार ने प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर को आम श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है। प्रशासन की ओर से कहा गया है कि जो भी मंदिर आए, वो प्रशासन द्वारा जारी कोविड नियमों का पालन करते रहें।
महाप्रभु का दर्शन करने आने वाले भक्तों के लिए मास्क को अनिवार्य किया गया है। पुरी शहर के लोगों को प्रमाणपत्र दिखाकर पश्चिम द्वार से महाप्रभु के दर्शन करने की अनुमति दी गई है जबकि अन्य भक्तों को सिंहद्वार देकर दर्शन करने की व्यवस्था की गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रात्रिकालीन कर्फ्यू के चलते भक्त सुबह 6 से रात 9 बजे तक महाप्रभु का दर्शन कर पाएंगे। मंदिर को सैनिटाइज करने ए​वं भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रत्येक रविवार को पुरी जगन्नाथ मंदिर भक्तों के लिए बंद रहेगा। हालांकि विभिन्न त्योहार के समय पुरी जगन्नाथ मंदिर खुला रहेगा।