Home दुनिया Russia-Ukraine War : क्या परमाणु युद्ध के लिए तैयार होना होगा दुनिया...

Russia-Ukraine War : क्या परमाणु युद्ध के लिए तैयार होना होगा दुनिया को ?

यूक्रेन पर रूस ने डर्टी बम का आरोप लगाया। रूस परमाणु हमला कर सकता है, ऐसा अमेरिका को आशंका है। अमेरिका अपनी जंगी जहाज को अलर्ट कर चुका है। चीन ने भी आंखें तरेरनी शुरू कर दी है। तो क्या दुनिया को परमाणु युद्ध के लिए तैयार रहना होगा ?

नई दिल्ली। जिस प्रकार से रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग को सात महीने से अधिक का समय हो चुका है। रूस के हालत पस्त होने की समय समय पर पश्चिमी मीडिया में खबरें आती हैं। रूस ने यूक्रेन पर डर्टी बम उपयोग करने का आरोप लगाया है। रूस ने अपने परमाणु हथियारों को एक्टिव कर दिया और केवल पुतिन के इशारे भर का इंतजार है। इससे तो लगता है कि दुनिया परमाणु युद्ध की ओर जा रहा है।
यूक्रेनी मीडिया द कीव इंडिपेंडेंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने बुधवार को दावा किया है कि रूस ने हमले के लिए करीब 400 ईरानी ड्रोन का इस्तेमाल किया है। उन्होंने कह कि ईरान में बने शहीद-136 कामिकेज़ ड्रोन से अलग-अलग जगहों पर हमला किया गया। इससे पहले 17 अक्टूबर को रूस ने यूक्रेन पर 43 ड्रोन से क्रूर हमला किया था। हमले में पांच लोग मारे गए थे।

खबरें आ रही हैं कि क्रीमिया रोड ब्रिज पर हाल ही में एक ट्रक के फटने के बाद रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध तेज हो गया। आपको बता दें कि क्रीमिया प्रायद्वीप की ओर जा रही एक ट्रेन के सात ईंधन टैंक में आग लग गई थी। विस्फोट में तीन लोगों की मौत हो गई थी। अमेरिका और नाटो को आंखे दिखाने वाले पुतिन अब यूक्रेन से अपना पिंड छुड़ाना चाह रहे हैं। लेकिन वो दुनिया के सामने अपनी कमजोरी नहीं दिखाना चाहते। इसलिए वो खुद अमेरिका से बात नहीं कर रहे बल्कि इसके लिए उन्होंने अपने रक्षा मंत्री को आगे कर दिया। बीते तीन दिनों में दो बार रूसी रक्षा मंत्री अमेरिका के रक्षा मंत्री से फोन पर वार्ता कर चुके हैं। ताकी आठ महीने पूरे कर चुकी यूक्रेन की जंग से किसी तरह पीछा छुड़ाया जा सके। जो रूस पहले दिन से परमाणु हमले की धमकी देता आ रहा है।

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को अपने रूसी समकक्ष सर्गेई शोइगु से बात की और यूक्रेन के साथ चल रहे युद्ध में ‘डर्टी बम’ के इस्तेमाल की कथित धमकी पर चिंता व्यक्त की। शोइगु ने कहा कि वह “कीव द्वारा संभावित उकसावे के बारे में चिंतित हैं जिसमें एक डर्टी बम का इस्तेमाल शामिल है। राजनाथ सिंह ने भारत की स्थिति को दोहराया कि रूस और यूक्रेन दोनों को संघर्ष को जल्द से जल्द हल करने के लिए कूटनीति और बातचीत करनी चाहिए। उन्होंने शोइगु से कहा कि परमाणु युद्ध को हर कीमत पर टाला जाना चाहिए क्योंकि ऐसे हथियारों का इस्तेमाल मानवता के मूल सिद्धांतों के खिलाफ है।

Exit mobile version