मध्य प्रदेश के कई इलाकों में भयंकर बाढ़, केंद्र ने दिया मदद का भरोसा

कई नदियां उफान पर है। कई गांवों में ग्रामीण को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है। स्थानीय प्रशासन केंद्रीय बलों की सहायता से राहत अभियान चल रहा है। इसके बीच केंद्र सरकार ने हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।


भोपाल।
बारिश के कारण मध्य प्रदेश के कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। कई इलाकों में बाढ़ से लोग परेशाना है। पूरी व्यवस्था अस्त व्यस्त हो गई। राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। वहीं, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी राज्य को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि मध्यप्रदेश के कुछ भागों में तेज़ बारिश व नदियों का जलस्तर बढ़ने से आयी बाढ़ के संबंध में मैंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बात कर स्थिति की जानकारी ली। केंद्र की ओर से प्रदेश को राहत कार्यों के लिए पूरी मदद दी जा रही।

वहीं, मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ग्वालियर में बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया। नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि हमारी प्राथमिकता अभी लोगों को सुरक्षित निकालना है। नदी किनारे के गांव प्रभावित हुए हैं, प्रशासन हर जगह मौजूद है और रेस्क्यू लगातार चल रहा है।

बता दें कि क्वाँरी, सीप, पार्वती नदियों में आई बाढ़ के कारण श्योपुर के 30 ग्राम बाढ़ प्रभावित हैं। अब तक लगभग 1000 से अधिक व्यक्तियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। वर्तमान में ग्राम जवालापुर, भेरावदा, मेवाड़ा, जातखेड़ा में फंसे लगभग 1 हजार लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए अभियान जारी है। चम्बल,क्वाँरी नदियों से प्रभावित मुरैना के 13 गांव बाढ़ ग्रस्त हैं। अब तक 250 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है और 200 व्यक्तियों के लिए बचाव कार्य जारी है। दतिया के 36 प्रभावित गांवों से अब तक 1100 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है और 45 व्यक्तियों हेतु अभियान जारी है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश के बाढ़ग्रस्त इलाकों में बचावकार्य में भारतीय सेना, #SDRF व @NDRFHQ की टीमें लगी हुई हैं। अगर कुछ इलाकों में रात होने के कारण रेस्क्यू नहीं हो पाया, तो सुबह ऑपरेशन पुनः प्रारम्भ होगा। @IAF_MCC के हेलीकॉप्टर्स का आवश्यकतानुसार उपयोग किया जाएगा।प्रदेश में बाढ़ की स्थिति को लगातार मॉनिटर कर रहा हूं। अभी आई जी चंबल, आईजी ग्वालियर और बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र के जिला प्रशासन से फोन पर चर्चा की है। सभी स्थानों पर रेस्क्यू ऑपरेशन तेजी से चल रहा है। रातभर चले रेस्क्यू ऑपरेशन में काफी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।