कार्यकर्ता ने बिंदी न पहनी होने के चलते पत्रकार से बात करने से किया इनकार, कहा भारत माता विधवा नहीं

कार्यकर्ता संभाजी भिड़े ने कैमरे पर कहा कि हर महिला भारत माता की तरह है और भारत माता विधवा नहीं है। उन्होंने सैम टीवी न्यूज के एक पत्रकार से बात करने से इसलिए इनकार कर दिया क्योंकि उसने ‘बिंदी’ नहीं पहनी थी।

महाराष्ट्र कार्यकर्ता संभाजी भिड़े को राज्य महिला आयोग द्वारा नोटिस दिया गया है क्योंकि उन्होंने एक पत्रकार को माथे पर बिंदी नहीं पहनी होने के चलते इंटरव्यू देने से इनकार कर दिया था। बता दें कि यह घटना कैमरे में कैद हो गई थी और टेलीविजन चैनल की क्लिप वायरल हो गई। संभाजी भिड़े ने महिला से कहा, “हर महिला भारत माता की तरह होती है और भारत माता विधवा नहीं होती।“

यह घटना उस समय की है जब शंभाजी भिड़े ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात की। मुलाकात के बाद जैसे ही वह बाहर निकल रहे थे, उन्हें सैम टीवी न्यूज की महिला पत्रकार ने रोक लिया।

पत्रकार ने अपने ट्विटर हैंडल से इस घटना को शेयर किया और कहा कि यह उनकी निजी पसंद है कि बिंदी पहननी है या नहीं। वहीं पत्रकार ने ट्वीट किया, “हम लोगों की उम्र देखकर उनका सम्मान करते हैं। लेकिन लोगों को भी सम्मान के योग्य होना चाहिए। यह मेरी निजी पसंद है कि मैं बिंदी पहनूं या नहीं। यह लोकतंत्र है।“

यह घटना उस समय की है जब शंभाजी भिड़े ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात की तथा जैसे ही वह बाहर निकल रहे थे, उन्हें सैम टीवी न्यूज की महिला पत्रकार ने रोक लिया।