Home राष्ट्रीय पानी के लिए दिल्ली में मचा है हाहाकार: आदेश गुप्ता

पानी के लिए दिल्ली में मचा है हाहाकार: आदेश गुप्ता

नई दिल्ली। दिल्ली में भले ही सर्दी का मौसम हो, लेकिन यहां पानी को लेकर खूब सियासत हो रही है। कई इलाकों में शुद्ध जल की आपूर्ति नहीं हो रही है। इसके विरोध में बीते दिनों दिल्ली प्रदेश भाजपा की ओर से जल बोर्ड मुख्यालय पर प्रदर्शन भी किया गया था। उस समय उसको लेकर आम आदमी पार्टी की ओर से राजनीति भी हुईं। बावजूद इसके कई दिन बीत गए, लेकिन दिल्ली के कई इलाकों में जलापूर्ति सुगम नहीं हो पाई है।

इसी संदर्भ में आज दिल्ली प्रदेश भाजपा मुख्यालय में प्रेसवार्ता सम्मेलन आयोजित की गई। इसमें प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता और दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामबीर सिंह विधूडी ने अपनी बातें रखीं। आदेश गुप्ता ने कहा कि 24 दिसंबर को दिल्ली जल बोर्ड के चेयरमैन की ओर से बोर्ड के अधिकारीयों ने वादा किया था कि 30 दिन से रुकी हुई वाटर टैंकर सप्लाई को वह 2 दिन के अंदर शुरू करेंगे। इसको 6 दिन हो गए हैं लेकिन अभी तक अरविंद केजरीवाल
सरकार ने सप्लाई नहीं शुरू की है, जिसके कारण जनता पानी के लिए परेशान है। उन्होंने कहा कि पिछले 6 वर्षों में यमुना को साफ और स्वच्छ बनाना तो दूर, दिल्लीवासियों को साफ पानी भी नहीं दे पाए। खुद मुख्यमंत्री जापानी कंपनी का पानी पी रहे हैं, और दिल्ली की जनता को गंदा पानी पीने पर मजबूर कर रहे हैं।

दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामबीर सिंह विधूडी ने कहा कि दिल्ली वासियों को स्वच्छ पानी देने की व्यवस्था पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय मदन लाल खुराना और स्वर्गीय साहिब सिंह वर्मा ने की लेकिन मुख्यमंत्री केजरीवाल ने जलापूर्ति में ही कटौती की। गरीबों के हितैषी बनने का ढोंग करने वाले केजरीवाल ने पानी मुहैया नहीं कराया जिसके कारण लोग पैसे दे कर टैंकर माफिया से पानी लेने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि अपनी नाकामी छुपाने के लिए केजरीवाल सरकार बहाना यह बनाती है कि हरियाणा से गंदा पानी यमुना में छोड़ा जा रहा है जबकि हकीकत यह है कि केजरीवाल सरकार के सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट काम नहीं कर रहे हैं।

 

Exit mobile version