आज है शहीदी दिवस, पूरा देश कर रहा है भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव को नमन

नई दिल्ली। स्वतंत्रता आंदोलन में अपना जीवन आहूत करने वाले भगत सिंह, सुखदेख और राजगुरू को आज पूरा देश नमन कर रहा है। 23 मार्च 1931 को भगत सिंह,सुखदेव और राजगुरु को फांसी की सजा सुनाई गई थी। इस दिन को ही शहीद दिवस के तौर पर मनाया जाता है और भगत सिंह समेत सुखदेव और राजगुरु को याद किया जाता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विट करके देश के इन तीनों अमर शहीदों को नमन किया है। उन्होंने लिखा है कि शहीद दिवस पर भारत माता के अमर सपूत वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को कोटि-कोटि नमन। मातृभूमि के लिए मर मिटने का उनका जज्बा देशवासियों को सदैव प्रेरित करता रहेगा। जय हिंद!

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा है कि भारत माता को ग़ुलामी की बेड़ियों से आज़ाद कराने के लिए अपना बलिदान देने वाले क्रांतिकारियों सरदार भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को उनके ‘शहीदी दिवस’ पर मैं स्मरण एवं नमन करता हूँ। आजादी के संघर्ष में इन क्रांतिकारियों का त्याग एवं बलिदान भारतवासियों को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा।

वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि देश के स्वतंत्रता आंदोलन के अमर प्रतीक शहीद भगत सिंह, सुखदेव एवं राजगुरु के शहीदी दिवस पर मैं उन्हें कोटि-कोटि नमन करता हूँ। देश के इन वीरों के अमर बलिदान का हर देशवासी सदा ऋणी रहेगा।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने आधिकारिक ट्विटर पर लिखा है कि मैं चौराहे चौराहे पर ये प्रश्न उठाया करता हूं। मैं अमर शहीदों का चारण उनके यश गाया करता हूं।-सरल
मां भारती की परतंत्रता की बेड़ियों को तोड़ने के लिए प्राणोत्सर्ग कर देने वाले वीर सपूत,शहीद-ए-आजम भगत सिंह,राजगुरु व सुखदेव के बलिदान दिवस पर इस माटी का कण-कण उन्हें प्रणाम करता है।