आज सूर्या शिवकुमार कुमार मना रहे हैं अपना जन्मदिन, जानिए उनके फिल्मी सफ़र के बारे में

सूर्या का जन्म 23 जुलाई 1975 में मद्रास में हुआ था। उनकी शुरूआत से ही फिल्मों में काम करने की इच्छा रही है और आज उन्होंने अपनी ज़िंदगी में एक अलग मुकाम हासिल कर लिया है।

तमिल फ़िल्मों के जाने माने अभिनेता सरवनन शिवकुमार जिनको उनके दर्शक सूर्या नाम से जानते हैं। जिन्होने ना तो केवल तमिल बल्कि कई सारे हिंदी फ़िल्मों में भी काफी नाम कमाया है। आज 23 जुलाई को सूर्या का जन्मदिन है लेकिन खुशी की बात तो ये है कि उनके जन्मदिन से पहले ही उन्हें सबसे बड़ा उपहार मिल गया है। सूर्या की फिल्म ‘जय भीम’ के लिए 22 जुलाई को नेशनल फिल्म अवॉर्ड की घोषणा कर दी गई है।

सूर्या का जन्म 23 जुलाई 1975 में मद्रास में हुआ था। उनकी शुरूआत से ही फिल्मों में काम करने की इच्छा रही है और आज उन्होंने अपनी ज़िंदगी में एक अलग मुकाम हासिल कर लिया है। भारतीय सिनेमा के सबसे ज्यादा मालामाल ऐक्टर में से एक होने की वजह से उन्होंने फोर्ब्स इंडिया सेलिब्रिटी 100 की लिस्ट में अपना 6 बार नाम दर्ज कराया है।

फिल्में

फिल्म नेरेक्कू नेर (1997) से अपने कैरियर की शुरुआत करने के बाद, सूर्या कई सफल फ़िल्मों में काम कर चुके हैं। जैसे, नंदा, फ्रेंड्स (2001), श्री, उन्नई निनैथु (2002) प्थमागण, काक्क काक्क (2003), आयुथा एजहुथु, पेराजह्गन (2004), आरू, मायवी, गजनी (2005), जून आर (2006), कुसेलान, वर्णम आयिरम (2008), अयान, आधावन (2009), सिंघम, मनमदन अंबू (2010), अवन इवन, को (2011) मात्त्रन (2012) सिंघम 2, चेन्नईयी ओरु नाल (2013), अंजान, सिंघम 3, अंजान (2014) पसांगे 2, मासू इंगिरा मासिलामानी (2015) 24 (2016) सी3 (2017) थाना सेरनाडा कूट्टम (2018) एनजीके, काप्पान (2019) सुरराई पोट्रो (2020) जय भीम (2021) विक्रम, रॉकेट्री (2022) आदि उनकी कुछ फिल्में रह चुकी हैं।

टेलिविजन

यही नहीं सूर्या ने कई सारे टेलिविजन शो भी किए हैं जैसे (2012) नींगलूम वेल्लालम ओरु कोड़ी और (2021) नवारसा।

निर्माता के रूप में कार्य

सूर्या कई सारी फ़िल्मों के निर्माता भी रह चुके हैं जैसे (2015) पसांग 2, (2017) मगलिर मत्तूम, (2018) कदाईकुट्ट सिंगम, (2019) जैकपॉट, उर्यादि 2, (2020) सुररी पोट्टरू, (2021) जय भीम, (2022) विरुमन।

पुरस्कार

मतीन तमिलनाडु राज्य फिल्म पुरस्कार और तीन फिल्मफेयर पुरस्कार दक्षिण जीत चुके हैं, जिसके कारण उन्होनें खुद को तमिल सिनेमा में अग्रणी समकालीन अभिनेताओं में से एक के रूप में स्थापित कर लिया है। वहीं 2 एडिसन अवॉर्ड, सिनेमा एक्सप्रेस अवॉर्ड, सिनेमा अवॉर्ड, और विजय अवॉर्ड भी मिल चुके हैं।