UGC NET 2022 Dates: 8 जुलाई से शुरू होंगी यूजीसी नेट परीक्षा, जल्द आएंगे एडमिट कार्ड

उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ugcnet.nta.nic.in पर परीक्षा के नोटिस देख सकते हैं। परीक्षा तिथियों की घोषणा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने की।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने यूजीसी नेट दिसंबर 2021 और जून 2022 (मर्ज किए गए चक्र) के लिए अंतिम परीक्षा तिथि जारी कर दी है। उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ugcnet.nta.nic.in पर परीक्षा के नोटिस देख सकते हैं। परीक्षा तिथियों की घोषणा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने की। परीक्षा 08, 09, 11, 12 जुलाई और 12, 13, 14 अगस्त 2022 को आयोजित की जाएगी।

एडमिट कार्ड अभी तक जारी नहीं किए गए हैं, लेकिन जल्द ही आधिकारिक एनटीए वेबसाइट – nta.ac.in पर उसे भी अपडेट किया जाएगा आमतौर पर यूजीसी नेट परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है। हालांकि, इस बार यूजीसी नेट परीक्षा का दिसंबर 2021 चक्र कोविड महामारी के कारण नहीं हुआ था।

उम्मीदवारों पर पड़े प्रभाव को ध्यान में रखते हुए और परीक्षा चक्र को और अधिक सुसंगत बनाने के लिए, एनटीए ने दिसंबर 2021 और जून 2022 के चक्रों को मर्ज करने का निर्णय लिया। इससे पहले यूजीसी-नेट परीक्षा इस साल जून के पहले या दूसरे सप्ताह में आयोजित होने वाला थी, लेकिन दिसम्बर 2021 के परीक्षा को मर्ज करने के चक्कर में जून सत्र वाली परीक्षा में भी देरी हो गई।

जेआरएफ की भी वैधता बढ़ी

इसके अलावा, यूजीसी ने इससे पहले जूनियर रिसर्च फेलोशिप (जेआरएफ) पुरस्कार की वैधता को भी एक वर्ष के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया था। इसकी घोषणा इसी साल मार्च में की गई थी, और रिसर्चर्स को कोरोनो वायरस प्रकोप के बीच जिन चुनौतियों का सामना करना पड़ा था उसके बाद में यह निर्णय लिया गया था। साथ ही, सहायक प्रोफेसरों के लिए जारी ई-प्रमाण पत्र की वैधता भी आजीवन करने का निर्णय लिया गया था।

क्या है यूजीसी नेट परीक्षा?

यूजीसी-नेट भारतीय विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में ‘सहायक प्रोफेसर’ और ‘जूनियर रिसर्च फेलोशिप और सहायक प्रोफेसर’ के लिए भारतीय नागरिकों की पात्रता निर्धारित करने के लिए एक परीक्षा है। मास्टर्स के बाद अमूमन छात्र इस परीक्षा के जरिए पीएचडी के लिए फेलोशिप लेते हैं।