संयुक्त राज्य अमेरिका मना रहा है अपनी 246वीं वर्षगांठ, जानिए स्वतंत्रता की कहानी

1946 में इस दिन को, फिलीपींस अमेरिकी क्षेत्राधिकार से समाप्त हो गया था, और इस प्रकार यह दिन दक्षिण-एशियाई राष्ट्र की स्वतंत्रता को भी दर्शाता है।

विश्व शक्ति संयुक्त राज्य अमेरिका के इतिहास में आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह दिन उसके अस्तित्व, अस्मिता की पहचान कराने वालों में सबसे अहम है। इसकी भूमिका के तार वहां की स्वतंत्रता से जुड़े हैं। इस वर्ष, संयुक्त राज्य अमेरिका अपनी 246वीं स्थापना वर्षगांठ मना रहा है। ब्रिटिश शासन से तेरह अमेरिकी उपनिवेशों (colonies) की स्वतंत्रता पर प्रकाश डालते हुए, यह दिन संयुक्त राज्य अमेरिका में एक महत्वपूर्ण संघीय अवकाश का भी प्रतीक है।

स्वतंत्रता की पृष्ठभूमि

अमेरिकी उपनिवेश वर्षों से ब्रिटिश शासन का विरोध कर रहे थे, इस क्षेत्र में ‘प्रतिनिधित्व के बिना कोई कराधान नहीं’ (No taxation without representation) के नारे के साथ विरोध को और गति प्राप्त हुई। उपनिवेशों और ब्रिटेन के बीच तल्खीयत ने बोस्टन टी पार्टी और लेक्सिंगटन और कॉनकॉर्ड में युद्ध का नेतृत्व किया। अंततः सन 1776 में, उपनिवेशों ने स्वतंत्रता के लिए अपना दावा पेश करने का निर्णय लिया था। हालांकि स्वतंत्रता की घोषणा 4 जुलाई को स्वीकार की गई थी, पर कांग्रेस ने वास्तव में इसके लिए 2 जुलाई को प्रक्रिया शुरू कर दी थी। स्वतंत्रता की घोषणा करने वाले कांग्रेस के सदस्यों में थॉमस जेफरसन शामिल थे। उन्होंने समिति के सदस्यों जॉन एडम्स, रोजर शेरमेन, बेंजामिन फ्रैंकलिन और विलियम लिविंगस्टन के परामर्श के बाद दस्तावेज़ का प्रारूप तैयार किया। वहीं समिति के मुख्य सदस्यों में शामिल  जेफरसन आगे चलकर अमेरिका के तीसरे राष्ट्रपति बने और उन्होंने साल  1801 से लेकर 1809 तक इस पद को संभाला।

4 जुलाई से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

संयुक्त राज्य अमेरिका के तीन राष्ट्रपतियों थॉमस जेफरसन, जेम्स मोनरो और जॉन एडम्स सहित संयुक्त राज्य अमेरिका के तीन राष्ट्रपतियों का निधन 4 जुलाई को ही हुआ था। वहीं अमेरिका के 30 वें राष्ट्रपति, केल्विन कूलिज का जन्म भी इसी तारीख को हुआ था।

साल 1776 में, कुछ उपनिवेशवादियों ने अमेरिकी स्वतंत्रता को चिह्नित करने के लिए मज़ाकिया तौर पर किंग जॉर्ज -III के अंतिम संस्कार का आयोजन किया था। वहीं, 1781 में, मैसाचुसेट्स राज्य 4 जुलाई को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने वाला पहला अमेरिकी राज्य बना था।

1946 में इस दिन को, फिलीपींस अमेरिकी क्षेत्राधिकार से समाप्ति के रूप में जाना जाता है, और इस प्रकार यह दिन दक्षिण-एशियाई राष्ट्र की स्वतंत्रता को भी दर्शाता है।