हरियाणा पुलिस की हिरासत में यूपी फार्मेसी के मालिक की हुई मौत, परिवार ने लगाया प्रताड़ना का आरोप

हरियाणा पुलिस के अनुसार, व्यक्ति ने दूसरी मंजिल की खिड़की से कूदकर उसकी हिरासत से भागने का प्रयास किया और गिरने से उसकी मौत हो गई।

हरियाणा पुलिस की हिरासत में मरने वाले एक फार्मेसी मालिक के परिवार ने आरोप लगाया है कि अत्यधिक यातना और उत्पीड़न के कारण उसकी मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले के सेवाराम इलाके में एक फार्मेसी के मालिक संजीव कुमार को हरियाणा पुलिस ने 15 अक्टूबर को नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट और ड्रग्स एंड कॉस्मेटिक्स एक्ट के तहत एक मामले में गिरफ्तार किया था।

पुलिस उपाधीक्षक गजेंद्र सिंह ने सोमवार को रिपोर्टर्स को बताया कि हरियाणा पुलिस उसे शनिवार को रिमांड पर बिजनौर इलाके में ले आई थी।

हरियाणा पुलिस ने मामले में संजीव कुमार के सहयोगी और ड्रग सप्लायर राशिद को भी गिरफ्तार किया है। बता दें कि संजीव कुमार के साथ हरियाणा पुलिस शनिवार रात एक होटल में रुकी थी।

सिंह ने बताया कि हरियाणा पुलिस के अनुसार, संजीव कुमार ने दूसरी मंजिल की खिड़की से कूदकर उसकी हिरासत से भागने का प्रयास किया और गिरने से उसकी मौत हो गई।

फार्मेसी के मालिक के साथ गए हरियाणा के पुलिस अधिकारी प्रदीप कुमार ने पुलिस रिपोर्ट में कहा कि संजीव कुमार को गंभीर हालत में स्थानीय अस्पताल ले जाया गया और बाद में जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वहीं संजीव कुमार के भाई पवन ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि हरियाणा पुलिस द्वारा अत्यधिक उत्पीड़न और हमले के कारण मौत हुई है।