क्या केजरीवाल के साथ आने के कारण एक्टर सोनू सूद पर हुई इनकम टैक्स की छापेमारी ?

बीते दिनों दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। दिल्ली सरकार के एंबेसडर बनने के लिए हामी भर दी। अब आर्थिक लेनदेन को लेकर इनकम टैक्स की कार्रवाई का सामना कर रहे हैं बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद। आखिर क्या है इसका सियासी कनेक्शन ?

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के दौर में हर कोई बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद की तारीफ करते नहीं थका। भाजपा के केई नेता और कुछ मंत्रियों ने उनके काम की प्रशंसा की। लेकिन जैसे ही 15 सितंबर को उनके कार्यालय पर इनकम टैक्स की छापेमारी शुरू हुई, हर कोई हैरान। आखिर क्यों यह छापेमारी ? बीतते समय के साथ बातें निकलती जा रही हैं। सियासी हलकों में चर्चा है कि बीते दिनों अभिनेता सोनू सूद ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। दिल्ली सरकार के एंबेसडर बनने के लिए हामी भरी। इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ रहा है।
शायद यही कारण है कि सोनू सूद के कार्यालय पर इनकम टैक्स की विभागीय कार्रवाई को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विट किया। अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा कि सच्चाई के रास्ते पर लाखों मुश्किलें आती हैं, लेकिन जीत हमेशा सच्चाई की होती है। वहीं आप सांसद संजय सिंह ने भी आईटी के इस सर्वे पर टिप्पणी करते हुए कहा कि जिस व्यक्ति ने कोरोना महामारी के दौरान दिन-रात लगाकर लोगों के लिए काम किया, आज उसके घर में इनकम टैक्स के छापे मारे जा रहे हैं।

गौर करने योग्य यह भी है कि गुरुवार को भी अभिनेता सोनू सूद के घर पर इनकम टैक्स का सर्वे चल रहा है। दावा किया जा रहा है कि सोनू सूद की कंपनी और लखनऊ की एक रियल एस्टेट फर्म के बीच हाल ही में हुई डील जांच की निगरानी में है। सोनू सूद के मुंबई स्थित ऑफिस सहित कई जगहों पर बुधवार को इनकम टैक्स विभाग का सर्वे किया गया, जो देर रात तक खत्म हुआ। अब गुरुवार को फिर एक बार टीम का सर्वे जारी है।

बता दें कि एक्टर सोनू सूद के घर के अलावा आईटी की टीमों ने उनकी कंपनियों से जुड़ी 6 जगहों पर भी सर्वे किया है। मालूम हो कि आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 133ए के प्रावधानों के तहत किए जाने वाले ‘सर्वे अभियान’ में आयकर अधिकारी केवल व्यावसायिक परिसरों और उससे जुड़े परिसरों में अवलोकन करते हैं।