Home राष्ट्रीय West Bengal Assembly Election 2021 : पहले वामपंथी और अब टीएमसी ने...

West Bengal Assembly Election 2021 : पहले वामपंथी और अब टीएमसी ने नहीं होने दिया विकास: नरेद्र मोदी

ये लोग कैसे काम करते हैं इसका उदाहरण है, पुरुलिया पाइप्ड वाटर सप्लाई प्रोजेक्ट, 8 साल हो गए ये अब तक अधूरा पड़ा है। सारे बांध, सरोवर की स्थिति भी आपके सामने है, यहां के किसानों को इसका जवाब कौन देगा दीदी

पुरुलिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm Narendra Modi) जब भी पश्चिम बंगाल (West Bengal Assembly Election 2021) के दौरे पर होते हैं, वे पुरानी सरकार और वर्तमान की टीएमसी सरकार पर जमकर हल्ला बोलते हैं। राज्य की बदहाली के लिए सीधे तौर पर राज्य सरकार को दोष देते हैं और आह्वान करते हैं कि इस विधानसभा चुनाव में भाजपा की सरकार (BJP Govt) बनाएं। उससे दोहरा लाभ मिलेगा। केंद्र और राज्य में एक ही सरकार के होने से विकास का पहिया तेज चलेगा।

गुरुवार को पुरूलिया में एक चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि पहले वामपंथियों और फिर टीएमसी (TMC) की सरकार ने यहां उद्योग-धंधे पनपने नहीं दिए। यहां सिंचाई के लिए जितना काम होना चाहिए था, वो भी नहीं हुआ। कम पानी की वजह से पशुओं को पालने में होने वाली दिक्कत मैं भली-भांति जानता हूं। उन्होंने कहा कि खेती-किसानों को अपने हाल पर छोड़कर टीएमसी सरकार सिर्फ अपने खेल में ही लगी रही। इन्होंने पुरुलिया (Purulia) को दिया है जल संकट से भरा जीवन, पलायन, गरीबों को भेद-भाव भरा शासन, इन्होंने पुरुलिया की पहचान देश के सबसे पिछड़े क्षेत्र के रूप में बनाई है।

पुरुलिया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि ये लोग कैसे काम करते हैं इसका उदाहरण है, पुरुलिया पाइप्ड वाटर सप्लाई प्रोजेक्ट, 8 साल हो गए ये अब तक अधूरा पड़ा है। सारे बांध, सरोवर की स्थिति भी आपके सामने है, यहां के किसानों को इसका जवाब कौन देगा दीदी (Mamata Banarjee) ?

Exit mobile version