क्या दिल्ली फाइल्स में होगी केवल राजधानी के बर्बादी की बात ?

नई दिल्ली। द कश्मीर फाइल्स को लेकर सुर्खियां बटोर चुके फिल्मकार विवेक अग्निहोत्री ने हाल ही में दिल्ली फाइल्स बनाने की घोषणा की है। उसके बाद ही इस सिनेमा को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की बातें हो रही हैं। रविवार को स्वयं विवेक अग्निहोत्री ने इससे जुड़ी कई बातें शेयर की।

मीडिया से बात करते हुए विवेक अग्निहोत्री ने कहा कि दिल्ली की फाइलें आपको तमिलनाडु के बारे में भी बहुत कुछ सच बताएगी। यह दिल्ली के बारे में नहीं है, यह दिखाता है कि दिल्ली कितने सालों से भारत को बर्बाद कर रही है। ज्यादातर पश्चिमी धर्मनिरपेक्ष एजेंडा रहा है और इसलिए हिंदू सभ्यता को हमेशा नजरअंदाज किया गया है, यह माना गया है कि हम कमजोर हैं और हमने जो कुछ भी सीखा है वह पश्चिमी शासकों या आक्रमणकारियों से है, इसलिए यह गलत है।

उन्होंने यह भी कहा कि इतिहास को साक्ष्य और तथ्य आधारित होना चाहिए। यह कथा-आधारित नहीं होनी चाहिए। भारत में समस्या यह है कि बहुत से लोग इतिहास को राजनीतिक और भारत के राजनीतिक एजेंडे के आधार पर लिखते हैं।

बता दें कि विवेक अग्निहोत्री ने शुक्रवार को द दिल्ली फाइल्स बनाने का ऐलान किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, मैं उन सभी लोगों का धन्यवाद करता हूं जिन्होंने द कश्मीर फाइल्स को बनाया। पिछले 4 साल हमने पूरी ईमानदारी के साथ मेहनत की। कश्मीरी हिंदुओं के साथ हुए नरसंहार और अन्याय के बारे में लोगों का बताना बहुत जरूरी था। अब वक्त आ गया है कि मैं अपनी नई फिल्म पर काम करूं।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, सुनने में आया कि फिल्म डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री 1984 दंगों पर द दिल्ली फाइल्स बनाएंगे। मुझे उम्मीद है कि वह इसे निष्पक्ष तरीके से पेश करेंगे और 49 बीजेपी-आरएसएस सदस्यों के नाम पर 14 प्राथमिकी (एफआईआर) का उल्लेख भी करेंगे।