Weather Update: क्या मौसम फिर से बदलेगा करवट, मौसम विभाग ने जारी की मानसून की ताजा रिपोर्ट्स

लू और गर्मी से हताश लोगों को मानसून का बेसब्री से इंतजार था। मौसम विभाग ने सूचना जारी करते हुए ,कहा है कि आने वाले सप्ताह से उत्तर भारत में मानसून की एंट्री होने जा रही है।

नई दिल्ली:इस साल की भीषण गर्मी से अच्छे अच्छों के पसीने छूट चुके हैं, वहीं पूरे देश में चल रही लू और भीषण गर्मी से सबका बुरा हाल था लेकिन अब मौसम ने करवट ले ली है। वहीं मौसम विभाग ने अपनी ताजा रिपोर्ट्स से पर्दा उठाते हुए कुछ जानकारियां उपलब्ध कराई है।

भीषण गर्मी और लू से लोगों को मिलेगी निजात

एक पूर्वानुमान के मुताबिक मौसम विभाग ने बताया है कि दक्षिण पश्चिम इलाकों में मानसून देश के मध्य और पूर्वी भारत में प्रवेश करने वाला है। मौसम विभाग के अनुसार बहुत जल्द 23 से 29 जून की अवधि में उत्तर पश्चिम भारत के अलग अलग इलाकों को घेर लेगा। गौरतलब है कि 16 जून से 2 दिनों के लिए ताजा पश्चिमी विक्षोभ भी आया हुआ है और इस कारण देश के कई इलाकों में भीषण गर्मी से लोगों को थोड़ी राहत मिली है।

23 जून से होगी मानसून की एंट्री

लू और गर्मी से हताश लोगों को मानसून का बेसब्री से इंतजार था। मौसम विभाग ने सूचना जारी करते हुए ,कहा है कि आने वाले सप्ताह से उत्तर भारत में मानसून की एंट्री होने जा रही है। चंडीगढ़, हरियाणा, दिल्ली ,पंजाब और उत्तर प्रदेश में 16 से 22 जून तक हल्की बारिश से लेकर भारी बारिश होने की संभावना है। बता दें कि 23 जून से मानसून की एंट्री हो जायेगी ,और पूरे देश में झमाझम बारिश शुरू होगी। इस कारण उत्तर पश्चिमी इलाकों में 2 से 4 डिग्री तक तापमान गिरने की भी संभावना है।

मानसून में न करें पहाड़ों की यात्रा

वेदर रिपोर्ट्स के मुताबिक मौसम विभाग के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने जी न्यूज़ को बताया कि मानसून लगभग करीब है, और इस वजह से पूर्वी राज्यों के विभिन्न इलाकों में कुछ स्थानों पर तेज बारिश और बिजली गिरने की संभावना हो सकती है। जिसके चलते ‘यलो अलर्ट’ भी जारी किया गया है। साथ ही अभिषेक आनंद ने चेताया कि इसका असर पहाड़ी इलाकों में भी होगा क्योंकि वहां भी तेज बारिश होने की संभावना है। जिसके चलते लैंडस्लाइड और पहाड़ खिसकने का खतरा बढ़ सकता है। इसलिए ऐसी स्तिथि में लोग बारिश के दिनों में पहाड़ों में भ्रमण करने से बचें तो काफी बेहतर होगा। वहीं इन इलाकों में रुक-रूककर होने वाली हल्की बारिश का दौर अगले 3 महीने तक लगातार जारी रहेगा।