सावधान !!! कोरोना काल में एक नई मुसीबत आने को तैयार है जानिए “तौकते” के बारे में

आईएमडी ने पहले ही मुंबई और ठाणे को येलो अलर्ट जारी कर दिया है, जो तेज हवाओं के साथ अलग-अलग भारी बारिश का संकेत देता है, जबकि गुजरात और केरल के कई जिलों के लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किए गए हैं।

नई दिल्ली। अब इसे प्रकृति का कोप कहा जाए या कुछ और। समूचा देश कोरोना की कहर से जूझ रहा है तो एक नई मुसीबत तूफान के रूप में आने को बेताब है। मौसम विभाग सहित दूसरी एजेंसियों ने तटवर्ती इलाकों के लिए अलर्ट जारी कर दिया है। इस तूफान को पूरी दुनिया तौकते के नाम से जानने लगी है।

हालंाकि, अभी इसे भारतीय समुद्री तट से टकराने में कुछ घंटे शेष हैं। बताया जाता है कि लक्षद्वीप द्वीप समूह और अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। रविवार तक एक शक्तिशाली चक्रवाती तूफान के प्रकट होने की संभावना है और अगले चार दिनों में गुजरात, महाराष्ट्र और केरल के तटों से टकराने की संभावना है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। आईएमडी ने पहले ही मुंबई और ठाणे को येलो अलर्ट जारी कर दिया है, जो तेज हवाओं के साथ अलग-अलग भारी बारिश का संकेत देता है, जबकि गुजरात और केरल के कई जिलों के लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किए गए हैं।

वर्तमान में लक्षद्वीप द्वीप समूह और अरब सागर से विकसित होने वाले चक्रवात तौकते के रविवार को पूर्ण रूप से चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है, जिससे देश के दक्षिणी और पश्चिमी तटीय भागों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है।

आईएमडी ने कहा कि तूफान लक्षद्वीप द्वीप समूह के बड़े क्षेत्रों में आज (14 मई) से लेकर रविवार तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश के साथ मध्यम बारिश लाएगा। आईएमडी के अनुसार केरल में शनिवार, रविवार और सोमवार को अलग-अलग स्थानों पर बहुत ज्यादा बारिश होने की संभावना है।

आईएमडी ने अपने नवीनतम बुलेटिन में कहा, “इसके अगले 12 घंटों के दौरान गहरे दबाव में और उसके बाद के 12 घंटों के दौरान एक चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। इसके और तेज होने की संभावना है। यह संभवत: आज शाम तक उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा। फिर उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 18 मई की सुबह तक गुजरात तट के पास पहुंचने की संभावना है।”