Diwali 2021 : आज है धनतेरस, सुबह से ही बाजारों में है चहल-पहल

धनतेरस भगवान धन्वंतरी की जयंती। दिवाली की शुरूआत आज से हो जाती है। कोरोना महामारी में कमी आने के बाद बाजार में पूरा रौनक दिख रहा है। लोग जमकर खरीददारी कर रहे हैं।

नई दिल्ली। दिवाली का पर्व शुरू हो चुका है। आज धनतेरस है। सुबह से बाजारों में चहल पहल देखी जा रही है। दुकानदार अपनी दुकानों को सजा चुके हैं। खरीददारी के लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं। राजधानी दिल्ली सहित कुछ शहरों में यातायात जाम की समस्या भी देखी जा रही है। सोशल मीडिया पर नेता धनतेरस की शुभकामनाएं दे रहे हैं।

कानपुर में धनतेरस के अवसर पर फूलों की बिक्री और कीमत में बढ़ोतरी देखी जा रही है। एक फूल विक्रेता ने बताया, “फूल आज कुछ महंगा है। त्योहार की वजह से सभी फूलों की खपत बढ़ी है। त्योहार पर लोग अपने घरों में फूल ले जाते हैं।”

अयोध्या में रेत कलाकार ने रामायण के कुछ दृश्य रेत पर बनाए हैं। रेत कलाकार रुपेश सिंह ने बताया, “मैं रेत पर तरह तरह के घटनाक्रमों पर रेत पर आकृति बनाकर सभी धर्म वर्गों को जागरूक करने का प्रयास करता हूं। मैं विश्व रिकोर्ड भी बनाना चाहता हूं।”

दिवाली से पहले शिमला में पर्यटकों की भीड़ बढ़ गई है। लोग दिवाली मनाने शिमला आ रहे हैं। एक पर्यटक ने बताया, “लॉकडाउन की वजह से हम कहीं बाहर नहीं जा पाए थे तो इसलिए हम शिमला आए हैं। दिवाली साल में एक बार आती है तो हम दोस्तों के साथ शिमला दिवाली मनाने आए हैं।”

रांची में दिवाली से पहले मिट्टी के दीए निर्माताओं को बिक्री की कमी के चलते समस्या का सामना कर1ना पड़ रहा है। रामब्रज प्रजापति ने बताया, “बाज़ार बहुत मंदा है। जो लोग पहले 100 दीए लेते थे वे अब 25 दीए ही खरीद रहे हैं। हम लोग इतनी मेहनत करते हैं उसे बावजूद बचत नहीं हो रही।”

आज धनतेरस है, इस दिन कुबेर, मां लक्ष्मी और भगवान धन्वंतरि की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि इस दिन जो भी काम किए जाते हैं, उसमें 13 गुनी वृद्धि होती है। धन्वंतरि की पूजा करने से व्यक्ति निरोग रहता है, जबकि कुबेर और लक्ष्मी जी की कृपा से इंसान को सुख, शांति और समृद्दि की प्राप्ति होती है।