Jharkhand News : रेलवे कर्मचारियों को उत्कृष्ट कार्यों के लिए पुरस्कृत किया

कई बार अपनी जान की परवाह किए बिना सरकारी कर्मचारी लोगों की सेवा करते हैं। ऐसे ही कई कर्मचारियों के काम को देखते हुए रेलवे के रांची मंडल ने उन्हें पुरस्कृत किया है। इससे दूसरे कर्मचारियों में भी अच्छे काम करने की प्रेरणा मिलती है।

रांची। दक्षिण पूर्व रेलवे के रांची मंडल रेल प्रबंधक प्रदीप गुप्ता ने महीने के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने के लिये तीन कर्मचारियों को इम्पलॉई ऑफ द मंथ योग्यता प्रमाण पत्र एवं नगद राशि प्रदान कर पुरस्कृत किया। एक कर्मचारी को अपर मण्डल रेल प्रबन्धक (परिचालन ) एम एम पंडित द्वारा उत्कृष्ट कार्य करने के लिए पुरस्कृत किया गया।
जीतू राम महतो ट्रैक मेंटेनर, किता 31 मई को अपने ड्यूटि के दौरान किलो मीटर संख्या 367/25-27 के बीच रेल फ्रेक्चर देखा , उन्होने शीघ्र पटरी को नियमानुसार सुरक्षित किया एवं इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी। श्री महतो की सतर्कता ने दुर्घटना को टाल दिया एवं उनके इस सराहनीय कार्य ले लिए मंडल रेल प्रबंधक प्रदीप गुप्ता द्वारा मई महीने का एंप्लॉय ऑफ द मंथ पुरस्कार एवं नगद राशि से पुरस्कृत किया गया।
हेमलाल लकड़ा, वेलफेयर इंस्पेक्टर , ने कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान निष्ठा एवं लगन के साथ कोरोना वायरस के कारण मृत कर्मचारियों के परिजनो को आर्थिक मदद एवं अन्य भुगतान बहुत ही कम समय में निष्पादित करने का कार्य किया साथ ही रांची रेल मण्डल के कोरोना वायरस से पीडित कर्मचारियों की सूची को निरंतर अपडेट रखा, उनके इस उत्कृष्ट कार्य ले लिए मंडल रेल प्रबंधक प्रदीप गुप्ता द्वारा जून महीने का एंप्लॉय ऑफ द मंथ पुरस्कार एवं नगद राशि से पुरस्कृत किया गया।
श्री जनक साहू पॉइंट्स मैन, गोविंदपुर दिनांक 28 जुलाई को ऑफिस शिफ्ट ड्यूटी 8 से 16 बजे की पाली में स्टेशन पर तैनात थे। 15:05 बजे एक मालगाड़ी गोविंदपुर स्टेशन से थ्रू सिग्नल में पास कर रही थी, जिसके 26 डिब्बे के एक्सएल बॉक्स के 3 में से 2 नट गिरे हुए थे। श्री साहू ने देखा तथा शीघ्र ट्रेन के गार्ड को लाल सिग्नल दिखाया एवं इसकी सूचना स्टेशन मास्टर को दी। कर्रा स्टेशन पर मालगाड़ी को रोककर जांच किया गया एवं पाया गया कि एक्सल बॉक्स मैं दो नट नहीं थे। यांत्रिक विभाग के कर्मचारियों द्वारा मरम्मत करने के बाद गाड़ी को रवाना किया गया। उनके इस सजगता एवं सराहनीय कार्य ले लिए मंडल रेल प्रबंधक प्रदीप गुप्ता द्वारा जुलाई महीने का एंप्लॉय ऑफ द मंथ पुरस्कार एवं नगद राशि से पुरस्कृत किया गया।
भरत सिंह मुख्य लोको निरीक्षक, को अपर मण्डल रेल प्रबन्धक (परिचालन ) एम एम पंडित द्वारा उत्कृष्ट कार्य करने के लिए पुरस्कृत किया गया। रांची रेल मण्डल में डीजल इंजनो का कम प्रयोग करने के लिए सभी लोको पाइलटों को अलग अलग लोको निरीक्षकों के अधीन विद्युत इंजन के परिचालन का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। भरत सिंह द्वारा बहुत ही कम समय में अपने ग्रुप के लोको पाइलटों को प्रशिक्षित किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी माणिक शंकर उपस्थित थे।