Lakhimpur Khiri Update : आखिरकार गिरफ्तार हो ही गए आशीष मिश्रा

घंटों की पुलिसिया पूछताछ में आरोपी टूटते चले गए। एक के बाद एक कड़ियां जुड़ती गईं। उत्तर प्रदेश की पुलिस ने आरोपी आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। निर्णय 11 अक्टूबर को होना है।

नई दिल्ली। आखिरकार केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी हो गई। पिता की हनक और कानूनी दांवपेंच काम नहीं आया। लखीमपुरी खीरी में किसानों की हत्या के मामले में आरोपी आशीष मिश्रा को उत्तर प्रदेश की पुलिस ने दबोच लिया।
2 अक्टूबर को हुई हिंसा के बाद से लगातार उन्हें गिरफ्तार किए जाने की मांग हो रही थी। शनिवार को पहले खुद आशीष मिश्रा से पुलिस ने लगभग 12 घंटे पूछताछ की जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की सुनवाई 11 अक्टूबर को होगी, इसके बाद ही फैसला होगा कि उन्हें पुलिस की हिरासत में भेजा जाएगा या नहीं। फिलहाल वह न्यायिक हिरासत में हैं।

असल में, लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भी उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस पर तल्ख टिप्पणी की थी। उसके बाद सरकार सकते में आ गई। जनता का आक्रोश और राजनीतिक दलों का दबाव भी लगातार बढ़ता ही जा रहा था। वैसे, केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्रा ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की थी। उनके सामने अपना पक्ष रखा था। लेकिन, कोई भी सियासी दांव काम नहीं आया।
गौर करने योग्य यह भी है कि आखिर समय तक अजय मिश्रा और उनके बेटे आशीष मिश्रा कहते आ रहे हैं कि वे निर्दोष हैं। अब मामला पुलिसिया जांच और कोर्ट पर निर्भर करेगी।

एक नजर में देखें कल कब-कितने बजे क्या-क्या हुआ

सुबह 10 बजे-केंद्रीय मंत्री पहुंचे अपने कार्यालय
10:10– सदर विधायक योगेश वर्मा कार्यालय से स्कूटी लेकर निकले
10:38- आशीष मिश्रा मोनू क्राइम ब्रांच के दफ्तर के सामने पहुंचे
10:40- आशीष मिश्रा मोनू को क्राइम ब्रांच के दफ्तर के भीतर भेज दिया गया।
11 बजे–एसडीएम डॉ अरुण कुमार सिंह पहुंचे
11:15–एसडीएम सदर ऑफिस के अंदर पहुंचे। आशीष से पूछताछ शुरू
12 बजे-एसपी विजय ढुल क्राइम ब्रांच दफ्तर के अंदर से निकले
1:00 बजे–एएसपी अरुण कुमार सिंह भी अंदर से बाहर की ओर निकले
2 बजे–सीओ संजय नाथ तिवारी दफ्तर के अंदर से बाहर आये
3 बजे–एएसपी अरुण कुमार सिंह बाहर आए
6 बजे–एसपी फिर बाहर निकले और ऑफिस चले गए
8 बजे–कोतवाली प्रभारी और एसडीएम सदर दोनों पुलिस लाइन पहुंच गए
10:45 बजे–पर्यवेक्षण जांच समिति के डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल क्राइम ब्रांच कार्यालय से बाहर आए
10:50 बजे—डीआईजी ने आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी की घोषणा की
करीब 11 बजे: देर रात आशीष की क्राइम ब्रांच कार्यालय में ही एसडीएम की उपस्थिति में मेडिकल जांच कराई गई।
रात करीब 12.30 बजे: क्राइम ब्रांच के कार्यालय से निकालकर उसे ड्यूटी मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। यहां पुलिस ने उसका तीन दिन का रिमांड मांगा। बचाव पक्ष के वकील ने इसका विरोध किया।
12.49 बजे: ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने आशीष को न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया। अगली सुनवाई अब सोमवार को होगी।